कटनी: कोरोना मरीज को झारखंड भगाने पर ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर

January 12th, 2022

डिजिटल डेस्क  कटनी एसीसी सीमेंट फैक्ट्री कैमोर में पॉवर प्लांट के निर्माण की ठेका कंपनी  कार्यरत मजदूर की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे झारखंड भेजने पर पुलिस ने ठेकेदार बृजेश सिंह निवासी जयपुर राजस्थान के विरुद् धारा 188 आईपीसी के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है। हालांकि पुलिस को बीएमओ   पत्र के बाद कार्यवाही करने में चार दिन लग गए। दो दिन तक कार्यवाही नहीं होने पर बीएमओ को दूसरी बार पत्र लिखना पड़ा। वहीं एसीसी सीमेंट कंपनी के डायरेक्टर एवं एचआर हैड को भी नोटिस जारी किया है। बीएमओ ने लिया एक्शन कोरोना मरीज को झारखंड भगाने पर विजयराघवगढ़ ब्लॉक मेडिकल ऑफीसर डॉ. विनोद कुमार ने एसडीएम विजयराघवगढ़ को अवगत कराया एवं  ठेकेदार के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई किए जाने पत्राचार किया। थाना प्रभारी ने बताया कि ठेकेदार बृजेश सिंह निवासी जयपुर राजस्थान के विरुद्ध धारा 188 भारतीय दंड विधान के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया। इस तरह की लापरवाही कैमोर थाना प्रभारी अरविंद जैन से मिली जानकारी के अनुसार  एसीसी सीमेंट फैक्ट्री कैमोर में  वाटर हीट रिकवरी सिस्टम के अंतर्गत 16 मेगावाट पावर प्लांट के बनाए जाने का कार्य जीएमएम कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड कोटा राजस्थान द्वारा किया जा रहा है जिसके प्रोजेक्ट मैनेजर बृजेश सिंह निवासी जयपुर राजस्थान के द्वारा हाल ही में झारखंड के कुछ श्रमिकों उक्त काम के लिए कैमोर बुलाया गया।  उक्त मजदूरों में से अशोक प्रजापति निवासी झारखंड का दिनांक 5 जनवरी 2022 को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कैमोर में कोविड टेस्ट कराया गया जिसकी रिपोर्ट 7 जनवरी को पॉजिटिव आने के बाद अशोक प्रजापति को आइसोलेट रखने के बजाय नियमों की अवहेलना करते हुए झारखंड वापस कर दिया गया।
इन्हे भी दिया नोटिस 
थाना प्रभारी के अनुसार  एसीसी  सीमेंट फैक्ट्री कैमोर के डायरेक्टरप्लांट के. एल.  रेड्डी एवं एचआर हेड  एच. पी. सिंह को  नोटिस जारी किया गया है कि भविष्य में किसी भी व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव आने पर विधिवत उसको आइसोलेशन सेंटर में रखकर इलाज कराएं।  जिससे कि पॉजिटिव आया कोरोना रीज नगर में अन्य लोगों को कोरोना संक्रमित नहीं कर पाए।
यहां प्रदर्शनकारियों पर कसा शिकंजा
धरवारा में किशोर की हत्या का पुलिस ने खुलासा तो कर दिया लेकिन अब प्रदर्शन करने वालों पर भी शिकंजा कस दिया है। स्लीमनाबाद थाना में आधा दर्जन नामजद आरोपियों से सहित डेढ़ सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 341, 147 एवं 188 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार  नेशनल हाईवे 30 के स्लीमनाबाद उमरियापान तिराहा में भीड़ इकट्ठा कर नारेबाजी करने पर  अभिषेक कुशवाहा निवासी ग्राम तेवरी, अभिषेक दुबे कारीपाथर, अवधेश यादव भटगंवा, चंद्रभान यादव संसारपुर, बबलू साहू धरावारा, भोला डुमार धरावारा एवं डेढ़ सौ लोगों द्वारा कलेक्टर के आदेश की अवेहलना की गई।