comScore

पहले रैकी करते थे, फिर देते थे  वारदात को अंजाम- 4 आरोपी हिरासत में, 2 की तलाश जारी 

पहले रैकी करते थे, फिर देते थे  वारदात को अंजाम- 4 आरोपी हिरासत में, 2 की तलाश जारी 

डिजिटल डेस्क जबलपुर। जिले के ग्रामीण थाना क्षेत्रों में चोरी की लगातार ऐसी वारदातें हुईं, जिनमें चोरों ने दीवार में सेंधमारी कर वारदात को अंजाम दिया था। इस तरह की वारदातें करने में माहिर चोर गिरोह के 4 सदस्यों को पुलिस ने दबोचकर उनके कब्जे से सोने-चाँदी के जेवर व चोरी का माल बेचकर खरीदी गई ऑल्टो कार जब्त की है। उक्त जानकारी एक पत्रकारवार्ता में एसपी अमित सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के 2 साथी फरार हैं। पकड़े गए आरोपियों को पुलिस रिमांड पर लिया जा रहा है।   
15 लाख रुपए का मशरूका एवं बोलेरो कार जब्त 
  इस संबंध में बताया गया कि 2 माह पूर्व जिला कटनी निवासी सुशील पटेल, रामदास वासुदेवा, अगोली, सनोरिया, सुमित सनोरिया, रामदीन माझी को पकड़ा गया था।   पूछताछ कर आरोपियों से करीब 10 वारदातों में चोरी किया गया   लगभग 15 लाख रुपए का मशरूका एवं बोलेरो कार जब्त की गई थी। पूछताछ पर उपरोक्त पकड़े गए आरोपियों ने शमीम एवं बिरजू के साथ मिलकर नकबजनी की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकारा था। इसी कड़ी में पनागर पुलिस ने क्राइम ब्रांच की टीम के साथ शमीम खान, बिरजू नरगडिय़ा, बबुआ नरगडिय़ा, निवासी कटनी को पकड़ा । पूछताछ में उन्होंने जबलपुर के अलावा आसपास के कई जिलों में चोरी की बड़ी वारदातें करना कबूल किया है।  पकड़े गए आरोपियों से अभी तक 70 ग्राम वजनी सोने के जेवर एवं डेढ़ किलो वजनी चाँदी के जेवर एवं  चोरी के रुपयों से खरीदी हुई ऑल्टो कार एमपी  21 सीए 0824, जो घटना में प्रयुक्त की गई, को जब्त किया गया है। 
-जेल के अंदर है एक साथी 
पूूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने एक वर्ष के अंदर चरगवाँ, तिलवारा, शहपुरा, पनागर क्षेत्र में रैकी कर अपने साथी सुमित सनोडिय़ा, निवासी कटनी के साथ वारदात को अंजाम दिया था, जो कि करीब 10 मामलों में जेल में बंद है। वहीं अपने अन्य साथी बिरजू एवं बबुआ के साथ मिलकर थाना पनागर एवं मझौली अंतर्गत अपने साथी सुधीर और डल्लू के साथ मिलकर घर की दीवार में छेद कर चोरी करना कबूल किया है। चोरी के जेवर कटनी निवासी पंकज सोनी को बेचना बताया, जिससे चोरी का माल बरामद किया गया है। 
-सरपंच पुत्र है जेवर लेने वाला 
पूछताछ में पता चला कि पंकज सोनी के पिता ब्रजकिशोर सोनी गाँव में ही एक क्लीनिक का संचालन करते हैं। वर्तमान में वह गुदरी गाँव के सरपंच भी हैं। आसपास के लोग उन्हें डॉक्टर के नाम से जानते हैं। आरोपी शमीम, बिरजू, बबुआ बहुत ही शातिर नकबजन हैं। इन पर जिला पन्ना में लगभग 27 प्रकरण एवं जबलपुर में लगभग 10 मामले दर्ज हैं।
 

कमेंट करें
8LbgG