दैनिक भास्कर हिंदी: नोटबंदी का झांसा देकर लूट ली मजदूरों की गाढ़ी कमाई, आरोपी फरार

July 5th, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। राजस्थान से मजदूरी कर डिंडोरी जाने के लिए जबलपुर पहुंचे 3 श्रमिकों को दीनदयाल चौक पर एकजालसाज ने नोटबंदी का झांसा दिया और नोट बदलवाने की बात कहते हुए रू.62000 की ठगी कर ली। ठगी का शिकार होने वाले श्रमिक पूरे दिन भटकते रहे और मुश्किल से उनकी रिपोर्ट देर शाम थाने में दर्ज की गई । मामला दर्ज कर पुलिस हुलिया के आधार पर युवक की तलाश में जुटी है।

राजस्थान से मजदूरी करके लौटे थे पीड़ित

सूत्रों के अनुसार शाम  7:00 बजे ठगी की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए डिंडोरी निवासी कुंजीलाल उम्र 55 वर्ष ने बताया कि वह अपनी बहन रवि बाई और चाची शांति बाई के साथ 3 माह पूर्व मजदूरी करने के लिए राजस्थान गए थे । वहां पर मजदूरी करने पर उन्हें जो पैसा मिला वह लेकर वे अपने गांव वापस जाने के लिए निकले थे । उसके पास 20,000 उसकी बहन के पास बीस हजार और चाची के पास 20050 रू. यानी कुल साढ़े 62000 रू. थे । राजस्थान से ट्रेन से जबलपुर स्टेशन पर सुबह 11:00 बजे उतरे और ऑटो पकड़ कर दीनदयाल चौक स्थित बस स्टैंड के लिए ऑटो में सवार होने पर उनके साथ एक युवक भी सवार हुआ और रास्ते में बातचीत कर उन्हें जाल में फंसा लिया । 

नोट लेकर गायब हो गया लुटेरा

दीनदयाल चौक पर ऑटो से उतरते वक्त उक्त युवक ने कहा कि फिर से नोटबंदी हो गई है और 500 के नोट बंद हो गए हैं उनके पास जो पांच 500 के नोट हैं वह उन्हें बदलवा देगा । उसके झांसे में आकर सभी ने अपनी मेहनत की कमाई ठग को सौप दी । रूपये लेकर वह अंदर घुसा और बाहर नहीं निकला ।काफी देर हो जाने पर उसकी तलाश की लेकिन उसका पता नहीं चलने पर वे थाने पहुंचे ।

महिलाओं ने बैंक से पार किए 25000 रू

रांझी थाना क्षेत्र स्थित इंदिरा नगर में दोपहर को बैंक से पैसे निकाल कर लौट रहे एक युवक को झांसा देकर दो करामाती महिलाओं ने उसके बैग से 25000 रूपये पार कर दिए । इस घटना की शिकायत पर मामला दर्ज कर पुलिस ने संदिग्ध महिलाओं की तलाश शुरू कर दी है । सूत्रों के अनुसार इंदिरा नगर रांझी निवासी प्रकाश मजूमदार ने दोपहर बाद थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह एसबीआई बैंक से रूपये 25000 निकालकर ऑटो से घर लौट रहा था रास्ते में एक किराना दुकान पर रुका था । दुकान के सामने दो महिलाएं घूम रही थी जिनने हाँथ की सफाई दिखाकर उसके रूपये पार कर दिए।