दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना संकट में गणेश मंडल और श्रद्धालु हुए ऑनलाइन 

August 23rd, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच मुंबई समेत प्रदेश भर में शनिवार को दस दिवसीय गणेश उत्सव की शुरुआत हो गई। कोरोना संकट के चलते मुंबई में कई सार्वजनिक गणेश मंडलों ने पंडालों में श्रद्धालुओं की भीड़ को टालने के लिए ऑनलाइन दर्शन की सुविधा शुरू की है। महानगर के वडाला स्थित मशहूर जीएसबी सेवा मंडल ने तकनीक के सहारे भक्तों को ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की है। वहीं कोरोना के कारण आम लोग भी एक-दूसरे के घरों में दर्शन के लिए जाने के बजाय ऑनलाइन निमंत्रण भेज रहे हैं औ और दर्शन कर रहे हैं। गणेशजी के दर्शन और आरती में शामिल होने के लिए लोग जूम, गूगल मीट जैसे ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं। हर साल गणेश उत्सव के दौरान गणेश मंडलों के पंडालों में काफी भीड़ रहती है। लोग भी एक-दूसरे के घरों में दर्शन के लिए जाते हैं लेकिन इस बार कोरोना का संकट के कारण यह संभव नहीं हो रहा है। राज्य सरकार ने गणेशोत्सव त्यौहार के लिए दिशानिर्देश जारी किया है। इसी के अनुसार सार्वजनिक गणेश मंडलों ने पंडाल में चार फुट और लोगों ने अपने घरों में दो फुट की गणेशजी की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की है। मुंबई की हाउसिंग सोसाइटियों में भी इस बार गणपति की प्राण प्रतिष्ठा करने वालों की संख्या भी कम रही है।  

लालबाग राजा मंडल में स्वास्थ्य उत्सव 

मुंबई के लालबाग के राजा गणेश मंडल ने कोरोना संकट के कारण इस साल गणेशोत्सव के बदले स्वास्थ्य उत्सव मनाने का फैसला किया है। मंडल के एक पदाधिकारी ने बताया कि लालबाग के राजा मंडल में स्वास्थ्य उत्सव की शुरुआत हो गई है। इसके तहत रक्तदान शिविर का आयोजन 31 अगस्त तक किया जाएगा। इसके अलावा प्लाज्मा दान के लिए शिविर लगाए गए हैं। हमें उम्मीद है कि कम से कम 300 लोग प्लाज्मा दान करेंगे। पदाधिकारी ने बताया कि कोरोना संकट में जिन पुलिस कर्मचारियों की मौत हुई है उनके परिजनों को एक-एक लाख रुपए और शौर्य चिन्ह दिया जाएगा। भारत-चीन के बीच हुए संघर्ष में गलवान घाटी में शहीद हुए सैनिकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए 15 जून को मंडल की ओर से दिया जा चुका है। 
 

खबरें और भी हैं...