comScore

भीख मांगने वाले बच्चों के लिए शहरों में घर बनाए सरकार, हाईकोर्ट में याचिका 

भीख मांगने वाले बच्चों के लिए शहरों में घर बनाए सरकार, हाईकोर्ट में याचिका 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। सड़कों पर भीख मांगने वाले बच्चों के रहने के लिए राज्य सरकार को राज्य भर में बेगर्स होम बनाने का निर्देश दिया जाए। एक कारोबारी ने इस तरह की मांग को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। याचिका में मांग की गई है कि राज्य सरकार को केंद्र सरकार की कौशल विकास से जुडी नीति को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए कहा जाए। याचिका के मुताबिक 6 से 14 साल के बच्चे और महिलाएं अक्सर ट्रैफिक सिग्नल व अन्य स्थलों पर भीख मांगते नजर आती हैं। इसलिए सरकार को महाराष्ट्र भीख प्रतिबंधक अधिनियम 1959 के प्रावधानों को कड़ाई से लागू करने का निर्देश दिया जाए। क्योंकि इस अधिनियम में बेगर्स होम व उनके लिए संस्थान बनाने के लिए प्रावधान किया गया है। याचिका में भीख मांगने के लिए  होनेवाली बच्चों की तस्करी पर भी रोक लगाने की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि पुलिस से इस मामले ठोस कदम उठाने की अपेक्षा है। जिससे बच्चों के शोषण को रोका जा सके। 

पुणे के कारोबारी ज्ञानेश्वर दरवाटकर की ओर से दायर याचिका में दावा किया गया है कि राज्य सरकार भीख मांगने की प्रवृत्ति को खत्म करने में नाकाम रही है। सरकार को खास तौर से भीख मांगनेवाले बच्चों व महिलाओं के पुनर्वास व सरंक्षण के लिए उचित कदम उठाने का निर्देश दिया जाए। याचिका में आग्रह किया गया है कि महिला व बालविकास विभाग की नीतियों को लागू करने का निर्देश दिया जाए। याचिका पर 24 जुलाई को सुनवाई हो सकती है। 


 
 

कमेंट करें
WONhA