भंडारा: डीपी सुधारते समय हेल्पर को लगा करंट

November 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, लाखनी (भंडारा). तहसील के मासलमेटा ग्राम स्थित पॉलीमर कंपनी की डीपी से बिजली बंद होने पर विद्युत विभाग को शिकायत न करते हुए अंजान व्यक्ति के हाथ से मरम्मत कराना कंपनी के मालिक को भारी पड़ गया। तकनीकी खामी दूर करने चढ़ा व्यक्ति बिजली के करंट का शिकार हो गया। उसे गंभीर हालात में इलाज के लिए भंडारा लाया गया। इसे लेकर विद्युत विभाग के अभियंता ने संबंधित कंपनी के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज करने लाखनी पुलिस थाने में सूचना दी है। मामला बुधवार 23 नवंबर का है। इस प्रकरण में लाखनी पुलिस जांच कर रही है। करंट लगने से गंभीर घायल हुए व्यक्ति का नाम आलेसुर ग्राम निवासी नाना ईस्कापे है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार लाखनी निवासी हनिफ भुरा की मासलमेटा ग्राम में गत दस वर्षों से पॉलीमर कंपनी है। इस कंपनी को 33 / 11 केवी होल्टेज डीपी से विद्युत आपूर्ति की जाती है। मंगलवार शाम 4 बजे अचानक कंपनी की बिजली बंद हो गई। पर कंपनी के मालिक हनिफ भुरा ने बिजली विभाग को लिखित शिकायत देने के बजाय पिंपलगांव / सड़क के लाइनमन पंधरे को फोन कर सूचना दी। पंधरे ने कल सुधार कार्य करने की बात कही। 

इस पर कंपनी के मालिक हनिफ भुरा ने लाखोरी फिडर के लाइनमन के हेल्पर नाना ईस्कापे को सुधार कार्य करने को कहा। नाना ईस्पाते बिना रबर के दस्ताने के विद्युत प्रवाहित डीपी पर चढ़ गया। उसे डिपी पर चढ़ते ही जबदस्त करंट लग गया। नाना ईस्कापे के हाथ झुलस गए और वह जमीन पर गिर पड़ा। उसे लाखनी के निजी मल्टी अस्पताल में लाया गया। लेकिन हालत बिगड़ने पर उसे भंडारा के अस्पताल में रेफर किया गया। इस प्रकरण में विद्युत विभाग ने संबधित के मालिक के खिलाफ लाखनी पुलिस थाने में शिकायत देने के लिए पत्र भेजा है।