सतना: यूपी-बिहार में छात्रों के हंगामे पर सतना जंक्शन में हाई अलर्ट

January 29th, 2022

  डिजिटल डेस्क सतना। रेलवे भर्ती परीक्षा का परिणाम जारी होने के बाद धांधली का आरोप लगाते हुए यूपी और बिहार के छात्रों ने जमकर हंगामा किया, तो पुलिस ने उन पर लाठियां बरसाईं, जिसके बाद देशभर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। ऐसे में रेलवे के आला अधिकारियों ने हाई अलर्ट जारी कर सभी प्रमुख स्टेशनों पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम करने के निर्देश दे दिए हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को रेल सुरक्षा बल के प्रभारी बब्बन लाल और जीआरपी चौकी इंचार्ज जीपी त्रिपाठी ने दलबल के साथ रेलवे प्लेटफार्म, प्रतीक्षालय, पार्किंग के साथ ही रेलवे यार्ड और ट्रैक पर भ्रमण कर सुरक्षा का जायजा लिया।
चिन्हित किए लीक प्वाइंट —-
संयुक्त दल ने ऐसे सभी स्थान चिन्हित किए जहां से कोई भी असामाजिक तत्व अथवा प्रदर्शनकारी रेलवे परिसर में प्रवेश कर सकता है। सुरक्षा बलों ने ट्रेनों में भी चेकिंग कराई, तो रेलवे के अन्य अधिकारियों-कर्मचारियों को संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने की हिदायत दी। हालांकि शुक्रवार को पूरे दिन कोई भी अप्रिय स्थिति नहीं बनी।

एनएसयूआई ने फूंका पुतला —-
उधर बिहार में रेलवे भर्ती परीक्षा में धांधली के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर लाठी चार्ज के विरोध में एनएसयूआई ने डिग्री कॉलेज के सामने केन्द्र और बिहार सरकार का पुतला फूंका। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पुलिसिया कार्रवाई की घोर निंदा करते हुए जमकर नारेबाजी की। युवाओं ने कहा कि 2 करोड़ नौकरियों का वादा कर केन्द्र की भाजपा सरकार बर्बरता पर उतारू है, इसका विरोध हर स्तर पर किया जाएगा। पुतला दहन में एनएसयूआई के संभागीय समन्वयक गौरव सिंह, सतना विधानसभा अध्यक्ष आनंद पांडेय, अंजनी यादव, सौरभ दुबे, निखिल सिंह गहरवार, प्रद्युम्न शुक्ला, भूपेश त्रिपाठी, सोनू द्विवेदी, आदर्श सिंह, हरि गुप्ता, सुरेन्द्र यादव, ध्रुव द्विवेदी, नमन द्विवेदी, बालेन्द्र यादव, धनराज यादव, प्रिंस गौतम, विपिन यादव, अभय गौतम, अभिमन मिश्रा और नीलेश गुप्ता शामिल रहे।