दैनिक भास्कर हिंदी: ICMR सर्वे : महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण का प्रमाण बहुत कम

June 16th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र की सामान्य जनता में कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रमाण अत्यल्प है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से प्रदेश के 6 जिलों में किए गए सिरो सर्वे की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। रिपोर्ट में लॉकडाउन की नीति को सफल बताया गया है। आईसीएमआर ने पिछले महीने राज्य में अहमदनगर, बीड़, जलगांव, परभणी, नांदेड़ और सांगली में सिरो सर्वे किया था। सर्वे में राज्य के 6 जिलों में कोरोना के पॉजिटिव मरीजों के मिलने का प्रमाण 1.13 प्रतिशत रहा। मंगलवार को प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह जानकारी दी गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सर्वे के लिए 6 जिलों में रेंडम पद्धति से चुने गए 10 समूहों के 40-40 ऐसे कुल 400 लोगों की रक्त जांच राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) द्वारा विकसित पद्धति से की गई। इसके द्वारा एंटीबॉडी जांच की गई थी। आईसीएमआर ने देश भर के 83 जिलों में यह सर्वे किया था। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि कंटेनमेंट जोन की नीति को प्रभावी रूप से लागू करने पर जोर दिया जा रहा है। इसके अलावा कोरोना के मद्देनजर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, कोरोना प्रतिबंध व नियंत्रण के लिए शारीरिक दूरी रखने और स्वच्छता पर खास जोर दिया जा रहा है। 

छह जिलों में सर्वे के परिणाम 

बीड़ में 396 नमूनों में से 4 पॉजिटिव नमूने मिले। कोरोना संक्रमण का प्रमाण 1.01 प्रतिशत रहा। 
परभणी में 396 नमूनों में से 6 पॉजिटिव नमूने मिले। पॉजिटिव केस का प्रमाण 1.51 प्रतिशत रहा। 
नांदेड़ में लिए गए 396 नमूनों में से 5 पॉजिटिव नमूने मिले। जिले का पॉजिटिव प्रमाण 1.27 प्रतिशत रहा। 
सांगली में 400 नमूनों में से 5 पॉजिटिव नमूने पाए गए। यहां पर 1.15 प्रतिशत कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले।  
अहमदनगर के 404 नमूनों में से 5 नमूने पॉजिटिव मिले। कोरोना पॉजिटिव प्रमाण 1.23 प्रतिशत रहा। 
जलगांव में 396 नमूने में से 2 नमूने पॉजिटिव मिले। पॉजिटिव प्रमाण 0.5 प्रतिशत रहा। 
राज्य के 6 जिलों में कुल 396 नमूने लिए गए। जिसमें से 27 पॉजिटिव नमूने मिले। पॉजिटिव नमूने का प्रमाण 1.13 रहा