जिलेभर में कार्यक्रम: देश को एकसूत्रता में पिरोता है भारतीय संविधान

November 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, कामठी/कन्हान. तहसील कार्यालय में तहसीलदार अक्षय पोयाम के हाथों बाबासाहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। अमोल पौंड ने संविधान प्रास्ताविक उद्देशिका का सामूहिक वाचन किया। नायब तहसीलदार नंदकुमार गोड़बोले, निरीक्षण अधिकारी अर्चना निमजे, संगीता तेलपांडे, वैशाली मेश्राम, माधुरी उईके, ज्योति गोरलेवार, रेखा उंबरकर, नितीन टेंभुर्ने, कमलेश पाटील, कुंभारकर, पानतावने, शैलेश धमगाये आदि उपस्थित थे। नगर परिषद कार्यालय में मुख्याधिकारी संदीप बोरकर के हाथों डाॅ. आंबेडकर के पुतले पर माल्यार्पण कर अभिवादन किया गया। प्रदीप भोकरे ने संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया। उपमुख्यधिकारी नितीन चव्हाण, कर अधीक्षक आबासाहेब मुंडे, स्वास्थ्य निरीक्षक विजय मेथिया सहित नप अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे। पंचायत समिति कार्यालय में बीडीओ अंशुजा गराटे, उपजिला अस्पताल में वैद्यकीय अधीक्षक नैना धुपारे, नागरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की वैद्यकीय अधिकारी डाॅ. शबनम खानुनी की मुख्य उपस्थिति में संबंधित कार्यालय में संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया गया। 

समता सैनिक दल की ओर से जयस्तंभ चौक में डाॅ. आंबेडकर के पुतले पर माल्यार्पण कर मानवंदना दी गई। मार्शल ओमप्रकाश मेंढे, राजकुमार मेंढे, शिशुपाल बागडे, निलेश मेश्राम, संदीप रामटेके, निलेश मानवटकर, वीरेंद्र मेश्राम, प्रतीक चांदोरकर, अंशुल तांबे, अश्विन बावनगड़े, शुभम रामटेके, आकाश मेश्राम, अमित बड़गे, प्रशांत गजभिये, सुमेध टेंभुर्णे, अक्षय चिंचखेडे, ओशो मेंढे, सम्यक चांदोरकर, अंकित शेंडे, हिमांशु बावनगड़े, सुशांक बोरकर, शिशुपाल सोंडवले, मोनू बड़गे, संध्या बंसोड, राजश्री सोंडवले, किरण मेश्राम, मनीषा गोंडाने, प्रियंका आदि उपस्थित थे। कांग्रेस की ओर से पूर्व जिप अध्यक्ष सुरेश भोयर के हाथों डाॅ. आंबेडकर के पुतले पर माल्यार्पण कर अभिवादन कर संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया गया। पूर्व नगराध्यक्ष प्रमोद मानवटकर, शकुर नागानी, मो. इरशाद शेख, आशीष मेश्राम, राजन कांबले, मनोज यादव, प्रमोद खोब्रागडे, राजकुमार गेडाम, मो. सुलतान, मंजू मेश्राम, कुसुम खोब्रागडे आदि उपस्थित थे। बरिएमं की ओर से अजय कदम, बसपा की ओर से इंजि. विक्रांत मेश्राम, वंचित बहुजन आघाड़ी, भारतीय संविधान दिवस गौरव समिति कामठी, प्रोग्रेसिव मुवमेंट, भारतीय बौद्ध महासभा की ओर से भी जयस्तंभ चौक स्थित डाॅ. बाबासाहब आंबेडकर के पुतले पर माल्यार्पण कर संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया गया।

संविधान ने देश को एकसूत्र में पिरोया: सावरकर 

संविधान से ही देश में एकता कायम होकर संविधान ने देश को एकसूत्र में पिराने का विचार विधायक टेकचंद सावरकर ने रखा। भाजपा कामठी शहर द्वारा संविधान दिवस कार्यक्रम की शुरुआत में बाबासाहब के पुतले पर विधायक टेकचंद सावरकर, भाजपा कामठी शहर अध्यक्ष संजय कनोजिया, कार्याध्यक्ष राजेश खंडेलवाल, भाजपा अनुसूचित जाति आघाड़ी, कामठी शहर अध्यक्ष विक्की बोंबले, महेंद्र वंजारी, विकास कठाने, अवि गायकवाड़ द्वारा माल्यार्पण व अभिवादन तथा संविधान प्रास्तविक का सामूहिक वाचन से हुई। भाजपा पदाधिकारी प्रीति कुल्लरकर, संगीता अग्रवाल, नेहा सहारे, किरण मानवटकर, प्रभा राऊत, शुभदा खोब्रागड़े, रोशनी कानफाडे, निशा मेश्राम, भारती कनोजे, लालसिंग यादव, प्रतीक पडोले, उज्वल रायबोले, राजेश देशमुख, आशुतोष अवस्थी, जितेंद्र खोब्रागडे, मंगेश यादव, पृथ्वीराज दहाट, कपिल गायधने, प्रमोद वर्णम, शुभम पोहरे, अरविंद चवड़े, नवीन खोब्रागड़े, नितीन सहारे, पुष्पराज मेश्राम, राजू बावनकुले, वसी जाफरी, अजीज हैदरी, अशफाक मसूरी, राहुल निंबर्ते आदि उपस्थित थे।

संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन व 26/11 के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

73वें संविधान दिवस पर नया पुलिस स्टेशन में वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संतोष वैरागडे व अपराध शाखा पुलिस निरीक्षक कमलाकर गड्डीमे के डॉ. आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पुलिस उपनिरीक्षक श्याम वारंगे ने भारतीय संविधान प्रास्तविक का सामूहिक वाचन किया। साथ ही 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए हमले में शहीद पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर पप्पू यादव, मंगेश लांजेवार, अखिलेशराय ठाकुर, अंकित, दीप्ति मोटघरे, संदीप भोयर सहित सभी पुलिस कर्मी उपस्थित थे।

ड्रैगन पैलेस टेम्पल में विद्यार्थियों ने किया संविधान प्रास्ताविक का वाचन 

डाॅ. आंबेडकर ने 26 नवंबर 1949 को तत्कालीन राष्ट्रपति डाॅ. राजेंद्र प्रसाद को भारत का संविधान सौंपा था। जिसे 26 जनवरी 1950 को देश में लागू किया गया। संविधान तैयार करने के लिए डाॅ. आंबेडकर को दो वर्ष, 11 महीने, 17 दिन का समय लगा था। संविधान में 395 कलम व 9 परिशिष्ट है। यह जानकारी अधि. सुलेखा कंुभारे ने विद्यार्थियों को दी। ड्रैगन पैलेस टेम्पल स्थित डाॅ. बाबासाहब आंबेडकर सांस्कृतिक व संशोधन केंद्र में अधि. सुलेखा कंुभारे के हाथों डाॅ. आंबेडकर की पुर्णाकृति प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अभिवादन किया गया। िवद्यार्थियों ने संविधान प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया गया। ओगावा सोसायटी, हरदास शैक्षणिक व सांस्कृतिक संस्था, हरदास हाईस्कूल, ड्रैगन इंटरनेशनल स्कूल, हरदास प्राइमरी शाला, दादासाहब कंुभारे बहुउद्देशीय प्रशिक्षण संस्था, दादासाहब कंुभारे विद्यालय नेरी, ड्रैगन पैलेस विपश्यना मेडिटेशन सेंटर, बहुजन रिपब्लिकन एकता मंच, ओगावा इंटरप्रायजेस प्रा.लि. आदि संस्था के पदाधिकारी, कर्मचारी, शिक्षकवृंद व विद्यार्थियों सहित अजय कदम, दिपंकर गणवीर, दीपक सीरिया, सुभाष सोमकुंवर, नारायण नितनवरे, अंकुश बांर्बोडे, अनुभव पाटील, मनीष डोंगरे, शरद राहाटे, मनोहर गणवीर, रेखा भावे, राजेेश शंभरकर, सुनील वानखेडे, सचिन नेवारे, महेंद्र मेंढे, चंदू कापसे, भीमराव आले, नरेश बावनकुले, शेंगर, राजेश गजभिये, विनोद जुमडे, देवेंद्र जगताप, अजित बागडे, विजय अलोने, अजमत अंसारी, दिलीप बोबडे, प्रफुल वासे, प्रवीण चहांदे, विशाखा पाटील, निशा फुले, वैशाली अढाऊ, निशा कापसे, संध्या मानकर आदि उपस्थित थे।

शिवसेना कार्यालय में आयोजन

संविधान दिवस पर  शिवसेना पार्टी कार्यालय, साईं कॉम्प्लेक्स तारसा रोड में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सर्व प्रथम डाॅ. बाबासाहब आंबेडकर के छायाचित्र पर माल्यार्पण शिवसेना रामटेक विधानसभा प्रमुख प्रेम रोडेकर व पूर्व तहसील प्रमुख महेंद्र भुरे ने की। रोडेकर ने संविधान के महत्व पर प्रकाश डाला तथा संविधान के रक्षा की शपथ ली गई। संचालन पुरुषोत्तम येनेकर ने तथा आभार विलास खोब्रागडे ने माना। ललन कुशवाह, रुपेश सातपुते, भरत गोखे, अनिल बारई, अमर किरपाने, प्रभाकर बावणे, नरेंद्र खड़से, शरद यादव, कुबेर पोटभरे, गुणवान आंबागडे, नरेश हिंगे, बंटी मेटे आदि उपस्थित थे।

 

कन्हान शहर विकास मंच 

कन्हान शहर विकास मंच द्वारा संविधान दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन आंबेडकर चौक में किया गया। मंच मार्गदर्शक ताराचंद निंबालकर के हाथों डाॅ. बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण व दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। निंबालकर, प्रभाकर रुंघे ने संविधान दिवस पर मार्गदर्शन किया। पश्चात संविधान प्रस्ताविका का सामूहिक वाचन किया गया। कन्हान शहर विकास मंच संस्थापक अध्यक्ष रुषभ बावनकर, प्रकाश कुर्वे, प्रणय बावनकुले, हरिओम प्रकाश नारायण, शाहरुख खान, अनुराग महल्ले, कृणालसिंह राजपूत, अश्विन भिवगडे, सोनू खोब्रागडे, राजेंद्र हटवार, योगराज आकरे सहित मंच पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

भाजपा अनुसूचित मोर्चा, कन्हान

भाजपा अनुसूचित मोर्चा कन्हान शहर द्वारा संविधान दिवस पर आंबेडकर चौक में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। भाजपा कन्हान शहर अध्यक्ष डा. मनोहर पाठक के हाथों डाॅ. बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। भाजपा पारशिवनी तहसील अध्यक्ष अतुल हजारे, उपाध्यक्ष कामेश्वर शर्मा ने संविधान के महत्व पर प्रकाश डाला गया। पश्चात संविधान प्रस्ताविका का सामूहिक वाचन किया गया। पार्षद राजेंद्र शेंदरे, नगरसेविका सुषमा चोपकर, वर्षा लोंढे, तुलेषा नानवटकर, सुनील लाडेकर, संजय रंगारी, अमोल साकोरे, महेंद्र चव्हाण, अजय लोंढे, रिंकेश चवरे, शैलेश शैलके, मयूर माटे, दिपंकर गजभिये, माधव वैद्य सहित भाजपा पदाधिकारी उपस्थित थे।

कलमेश्वर में निकली पैदल रैली

संविधान दिवस पर  सामाजिक न्याय एवं विशेष सहायक विभाग  कलमेश्वर, जिला नागपुर के सरकारी छात्रावास द्वारा पैदल रैली निकाली गई। रैली के माध्यम से छात्र-छात्राओं द्वारा संविधान के प्रति जन जागरूकता व संवैधानिक मूल्यों को बढ़ावा देने का प्रयास किया गया। संविधान से जुड़े इस अभियान में सभी को भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया। रैली में छात्रावास अधीक्षक डॉ. पी.पी. मोहने सहित समस्त स्टाॅफ उपस्थित था।

कानून विषयक जनजागृति शिविर

कोंढाली में राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के डॉ. बाबासाहब अम्बेडकर विधि महाविद्यालय नागपुर, जिला विधि सेवा प्राधिकरण नागपुर एवं लाखोटिया भुतड़ा हाईस्कूल एवं जूनियर कॉलेज, कोंढाली  के संयुक्त तत्वाधान में लाखोटिया भुतड़ा  कॉलेज प्रांगण में कानूनी जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।   इस दौरान बाल अधिकार अधिनियम, गुड टच, बैड टच, बाल संरक्षण अधिनियम, घरेलू हिंसा पर नुक्कड़ नाटक, यातायात नियमों का पालन करने के लिए नाटक के साथ-साथ संविधान के निर्माता, संविधान किसने लिखा, संविधान लिखने में कितना समय लगा, इस प्रश्न के साथ भारतीय संविधान और लोकतंत्र  राष्ट्र जैसे विषयों पर मार्गदर्शन दिया।

विधि विषयक जनजागृति पर विविध  विषयों विधि महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. प्रवीना खोबरागड़े, प्रो. राजशंकर मोर, प्रो. अधरा देशपांडे, प्रो. मेनमाई कुकड़े, प्रो. कल्याणी कापसे, प्रो. दिनेश सहारे, प्रो. राहुल ढोबले, प्रो. अर्चना प्रांजय, प्रो. हर्षदा वालके ने छात्रों और शिक्षकों तथा उपस्थितों को भारतीय संविधान दिवस और इसके महत्व के बारे में जानकारी दी। अंत में, संविधान पर प्रश्न मंजूषा के माध्यम से छात्रों संविधान तथा राष्ट्र विकास पर सवाल जवाब लिए गए। लाखोटिया भुतड़ा जूनियर कॉलेज के प्राचार्य गणेश सेंबेकर, पर्यवेक्षक सुधीर बुटे, हरीश राठी की उपस्थिति में संविधान कानूनी जनजागृति शिविर का समापन किया गया। संचालन एवं आभार हर्षिता पांडे ने माना।

संविधान दिवस पर उमरेड में बुद्ध-भीम गीतों की गूंज 

शनिवार को उमरेड में कई स्थानांे पर संविधान दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर विचार मंच की ओर से अढ्याल ले-आउट में आइडियल सिंगर शिवा मोहोड़ तथा बुद्ध-भीम गीत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर अध्यक्ष उमरेड के उपविभागीय अधिकारी चंद्रभान खंडाईत, नप मुख्याधिकारी मंगेश खवले आदि उपस्थित थे। सुबह तहसील कार्यालय के सामने स्थित बाबासाहब की प्रतिमा पर वंचित बहुजन आघाड़ी ने माल्यार्पण कर अभिवादन किया। वंचित बहुजन आघाड़ी के नागपुर जिला महामंत्री हर्षानंद भगत, हंसदीप भोंगे, प्रबुद्ध सुखदेवे, शरद आटे, राजीव लोखंडे संजय मनावर आदि मौजूद थे। संचालन संजय मनावर ने एवं आभार संजीव लोखंडे ने माना। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए शशिकांत केसकर, मुकेश बहादुरे, संदीप लिंगायत, दिनेश कांबले, अमर सोंडवले, प्रकाश गजभिए

राजहंस मंेढे, हरिदास सोमकंुवर आदि ने योगदान दिया

नगर परिषद काटोल में संविधान दिवस बड़े उत्साह के साथ मनाया गया। नगर परिषद सभागृह में आयोजित कार्यक्रम में  डॉ. अांबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अभिवादन किया गया। पश्चात मुख्याधिकारी धनंजय बोरिकर, कृषि उपज मंडी समिति सभापति चरणसिंह ठाकुर की उपस्थिति में सामूहिक रूप से भारत के संविधान की प्रस्तावना का वाचन किया गया।
 

भारतीय संविधान स्वतंत्रता, समानता, बंधुत्व और न्याय के मूल्यों को गहराई से संजोने का विचार कृउबा समिति के सभापति चरणसिंह ठाकुर ने व्यक्त किया। संविधान देश का राष्ट्रीय ग्रंथ है। जिसमें धर्म, नस्ल, पंथ, लिंग, भाषा, प्रांत जैसे कोई भेद नहीं है। सभी के लिए समान अवसर, हमारा भारतीय संविधान न्याय और समानता पर आधारित होने का विचार मुख्याधिकारी धनंजय बोरिकर ने व्यक्त किया। इस अवसर पर किशोर गlढ़वे, तानाजी थोटे, राजू चरडे, मुख्य अभियंता नितीन गौरखेड़े, राजू काले, जितेंद्र हिरुडकर, अविनाश बरसे, कैलास खंते, अधीक्षक देवेन काले, राजेंद्र सावरकर, नगर अभियंता रवीश रामटेके, विजय ठाकरे, नामदेव बारई आदि मौजूद थे।

रामटेक में संविधान निर्माता  बाबासाहब को  किया अभिवादन

रामटेक में संविधान दिवस पर सुबह 10 बजे नगर के डाॅ.आंबेडकर चौक स्थित बाबासाहब की प्रतिमा परिसर में संविधान दिन बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। परिवर्तन मंच, अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति, प्रहार संगठन, मैत्री ग्रुप, भीमसंग्राम सेना द्वारा संयुक्त रूप से बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा को माल्यार्पण कर अभिवादन किया गया। पश्चात संविधान के प्रास्ताविक का सामूहिक वाचन किया गया। बाबासाहब के संविधान निर्माण में दिए योगदान के प्रति कृृृृतज्ञता व्यक्त की गई। प्रहार के जिलाध्यक्ष रमेश कारामोरे ने कहा कि, बाबासाहाब को अभिप्रेत समाज सुधार के लिए ओबीसी, अनु.जाति, जमाति, आदिवासी आदि जाति, धर्म, पंथ में बंटने से बचकर बहुजन समाज की संकल्पना को सदृृढ़ करना चाहिए। पूर्व नगराध्यक्ष शोभा राऊत, मैत्री ग्रुप की अल्का मेश्राम, अंनिस की दीपा चव्हाण ने भी संबोधित किया। प्रास्ताविक का वाचन एवं कार्यक्रम का संचालन प्रहार के तहसील अध्यक्ष प्रयास ठवरे ने किया।

कार्यक्रम में परिवर्तन मंच के राहुल जोहरे, वेणुधर भिमटे, भाऊराव भिलावे, दिनेश मून, गौतम पौनिकर, प्रमोद पाटील, राजेंद्र कांबले, अंनिस की रामटेक शाखा कार्याध्यक्ष दीपा कांबले, प्रधान सचिव शुभा थूलकर, अर्चना वाघमारे, सरला नाईक, आम्रपाली भिवगडे, गंगा टेंभुर्णे, भीमसंग्राम सेना के जिलाध्यक्ष भागवत सहारे, मैत्री ग्रुप की अल्का मेश्राम, कल्पना जोहरे, वैशाली बांगर, अल्का प्रकाश मेश्राम, भारती गजभिये, विद्या सातपुते, जयश्री धुर्वे, अनिता जनबंधु सहित आंबेडकरवादी अनुयायी उपस्थित थे।