प्राथमिकी दर्ज: कर्नाटक में इंटर्न ने वकील के खिलाफ यौन उत्पीड़न का मामला करवाया दर्ज

October 19th, 2021

डिजिटल डेस्क, दक्षिण कन्नड़। लॉ से ग्रेजुएट एक छात्रा ने मेंगलुरु में एक वरिष्ठ अधिवक्ता के खिलाफ यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। वरिष्ठ अधिवक्ता के.एस.एन. राजेश के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है। राजेश लोकायुक्त और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) के विशेष लोक अभियोजक भी हैं।

मंगलुरु के पुलिस आयुक्त एन. शशिकुमार ने कहा कि शहर के एक लॉ कॉलेज की एक छात्रा ने यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया है और आरोपी को हिरासत में लेकर जांच की जाएगी।

उन्होंने कहा कि आरोपी के खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। एक इंटर्न द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोप में और दूसरी उसके दोस्त द्वारा करवाया गया है। पीड़िता और वकील के बीच बातचीत का एक ऑडियो क्लिप वायरल हो गया है। हालांकि, वकील ने दावा किया कि पीड़िता और उसके दोस्त शशिकुमार ने ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ की थी।

पीड़िता के दोस्त ने एक अन्य शिकायत में आरोप लगाया है कि आरोपी के दोस्तों ने महिला संगठन के नाम पर कानूनी सलाह देने के बहाने उससे संपर्क किया था। शशिकुमार ने कहा, वे पीड़िता के दोस्त के साथ साथ उसकी बहनों पर दवाब डाल रहे थे और उन्हें (आरोपी के दोस्त) जैसा चाहते थे वैसा बयान देने की धमकी दी।

उन्होंने कहा, यह एक गंभीर मामला है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए और मामले में पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए आईपीएस अधिकारी रंजीत बंडारू को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है।

शशिकुमार ने कहा, तीन दिन पहले अधिवक्ता ने पीड़िता के दोस्त पर रंगदारी का आरोप लगाते हुए उरवा थाने का दरवाजा खटखटाया था। हालांकि, मामले को थाने में सुलझा लिया गया और कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई। आगे की जांच जारी है।

आईएएनएस