comScore

ISI और बॉलीवुड के कथित संबधों की होगी जांच - गृहमंत्री देशमुख

ISI और बॉलीवुड के कथित संबधों की होगी जांच - गृहमंत्री देशमुख

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर काम कर रहे माफिया से बॉलीवुड कलाकारों के संबंध के आरोप अगर सच हैं तो यह बेहद आपत्तिजनक मामला है। महाराष्ट्र पुलिस इसकी जांच करेगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मामले में किसी को बख्शा नहीं जाएगा। गृहमंत्री अनिल देशमुख ने यह बात कही। शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने आरोप लगाए की आईएसआई के लिए काम करने वाले लोग बॉलीवुड कलाकारों को बुलाकर कार्यक्रम आयोजित करते हैं। इससे मिले पैसों का इस्तेमाल देश विरोधी गतिविधियों के लिए किया जाता है। उन्होंने कार्यक्रमों में शामिल होने वाले भारतीय कलाकारों के खिलाफ जांच की मांग की थी। भाजपा के उपाध्यक्ष बैजयंत जय पांडा ने भी दावा किया है कि कुछ बॉलीवुड सेलेब्रिटीज के ऐसे लोगों से संबंध हैं, जिनके तार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और पाकिस्तानी सेना से जुड़े हुए हैं। इस मामले में पाकिस्तानी मूल के रेहान सिद्दीकी और टोनी अशाई के नाम सामने आ रहे हैं। आरोपी अमेरिका के ह्यूस्टन में रहते हैं और बॉलीवुड कलाकारों के कार्यक्रम आयोजित कराते हैं। आरोप है कि इसी पैसे का इस्तेमाल कश्मीर को लेकर भारत को बदनाम करने और कश्मीरी युवाओं को बंदूक और पत्थर उठाने के लिए भड़काया जाता है। इसके अलावा आरोपी आईएसआई के इशारे पर खालिस्तान के लिए भी अभियान चलते हैं। केंद्र सरकार ने रेहान सिद्दीकी के साथ-साथ उसके लिए काम करने वाले भारतीय मूल के दो लोगों राकेश कौशल और दर्शन मेहता को ब्लैकलिस्ट कर दिया है। बॉलीवुड कलाकार अब उनके कार्यक्रमों में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। सोशल मीडिया पर कई बॉलीवुड कलाकारों की तस्वीरें आरोपियों के साथ साझा की जा रहीं हैं।

पीआर एजेन्सियां बनाती हैं फर्जी फॉलोअर्स

सोशल मीडिया पर फर्जी फॉलोअर्स खरीदने के मामले में गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि कई पीआर एजेन्सियां बॉलीवुड कलाकारों समेत कई लोगों के फर्जी फॉलोअर्स बनवाते हैं। इसके जरिए पब्लिसिटी के साथ-साथ ट्रोल करने और डाटा चुराने का भी काम किया जाता है। महाराष्ट्र पुलिस इन सभी पहलुओं की जांच कर रही है। 
 
 

कमेंट करें
Zgway