• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Jabalpur-Gondia broad gauge first superfast train after 21 years wait, the distance of Nagpur decreased,

दैनिक भास्कर हिंदी: जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज 21 साल इंतजार के बाद पहली सुपरफास्ट ट्रेन चली  नागपुर की दूरियाँ घटीं

January 4th, 2021

दक्षिण भारत जाना हुआ आसान -मुख्य रेलवे स्टेशन से रवाना हुई पहली सुपरफास्ट ट्रेन गया-चेन्नई सेंट्रल, नैनपुर, बालाघाट और गोंदिया की तरक्की के खुलेंगे दरवाजे

डिजिटल डेस्क जबलपुर । 21 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार वो ऐतिहासिक क्षण रविवार की शाम को आया जब जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज परियोजना के पूर्ण होने के बाद जबलपुर रेलवे स्टेशन पर गया-चेन्नई सेंट्रल सुपरफास्ट ट्रेन पहुँची और यात्रियों को लेकर नैनपुर के रास्ते बालाघाट-गोंदिया की ओर हवा से बातें करते रवाना हो गई। 1755 करोड़ रुपए की लागत से पूरी हुई ब्रॉडगेज परियोजना से जबलपुर और नागपुर के बीच 181 किलोमीटर की दूरी कम हो गई है। इससे यात्रियों का करीब 3 घंटे का समय बचेगा। वहीं दक्षिण भारत की दूरियाँ भी कम होने से व्यापार और  पर्यटन को नई दिशा मिलेगी, रोजगार और शिक्षा के नए अवसर पैदा होंगे, साथ ही ग्रामीण पारम्परिक कलाओं को नई पहचान मिलेगी।  ब्रॉडगेज लाइन पर तेज गति से दौडऩे वाली ट्रेनों से आने वाले समय में सिवनी, बालाघाट और मंडला जैसे ग्रामीण लेकिन तेजी से विकास की ओर बढ़ रहे क्षेत्रों के विकास की नई गाथा लिखी जाएगी। इस ट्रैक पर ये बड़े स्टेशनों के रूप में उभर कर आएँगे। कान्हा, पेंच जैसे पर्यटन स्थलों के साथ औद्योगिक विकास भी इन अंचलों में गति हासिल करेगा। 
फूल-मालाएँ पहनाकर किया स्वागत 
पहली सुपरफास्ट ट्रेन का बेसब्री से इंतजार कर रहे यात्रियों ने तालियाँ बजाकर ट्रेन का स्वागत किया। ट्रेन के प्लेटफॉर्म पर रुकने के बाद रेलवे स्टाफ को फूल-मालाएँ पहनाकर उनका अभिनंदन किया गया। यात्रियों के चेहरों पर इस बात की खुशी झलक रही थी कि वे 21 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद शुरू हुए ऐतिहासिक ब्रॉडगेज लाइन के साक्षी हैं और उनकी आँखों के सामने सुपरफास्ट ट्रेन हवा से बातें करने के लिए तैयार खड़ी थी। इस अवसर पर स्टेशन पर उपस्थित यात्रियों ने कहा कि दो दशक से ज्यादा इंतजार के बाद आज यह शुभ दिन आया है, नैरोगेज ट्रेन से तो नैनपुर, बालाघाट और गोंदिया कई बार वे गए हैं लेकिन ब्रॉडगेज लाइन पर पहली सुपरफास्ट ट्रेन से अपने गृहनगर तक पहुँचने की  बात ही कुछ और है..।  शाम 4 बजे गया-चेन्नई सुपरफास्ट ट्रेन प्लेटफॉर्म नं. 6 पर आई, जो  10 मिनट के हॉल्ट के बाद यात्रियों से फुल होकर गंतव्य की ओर रवाना हो गई। 
हमेशा याद रहेगा
* ब्रॉडगेज लाइन पर चलने वाली पहली सुपरफास्ट ट्रेन का सफर हमेशा याद रहेगा। इसके लिए मैं बालाघाट से जबलपुर आया हूँ। 
वकील वाधवा 
बरसों से था इंतजार 
*  ब्रॉडगेज लाइन के शुरू होने का बरसों से इंतजार कर रहे थे, जो आज पूरा हो गया। इस यादगार सफर का साक्षी बनकर अच्छा लग रहा है। 
बलराम अमलानी 
सफर होगा आसान
* ब्रॉडगेज परियोजना पूरी होने पर सुपरफास्ट ट्रेन के चलने से यात्रा सुविधाजनक हो जाएगी, जिसमें समय भी कम लगेगा और पैसों की भी बचत होगी। 
शंकर कुमार 
व्यापार के दरवाजे खुलेंगे 
*  ब्रॉडगेज लाइन पर सुपरफास्ट ट्रेन के चलने से व्यापार और पर्यटन के दरवाजे खुलेंगे। ग्रामीण अंचल का विकास होगा। लोगों का जीवन बदलेगा।  
सुधीर पांडे 
 

खबरें और भी हैं...