दैनिक भास्कर हिंदी: जबलपुर में पुलिस का खुलेगा हाईटेक नशामुक्ति केन्द्र, बड़ा संख्या में इसके शिकार हैं युवा 

June 1st, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। पिछले कुद दिनों से देखने में आ रहा है कि जबलपुर एवं आसपास के जिला कटनी मंडला नरसिंहपुर आदि नशे के धंधे की मंडी बनते जा रहे हैं। नशा के रूप में बिकने वाला यह मौत का सामान बड़ी ही आसानी से युवाओं को उपलब्ध हो जाता है । जबलपुर और संभाग में स्मैक, कोकीन और अन्य मादक पदार्थों की बढ़ती तस्करी के कारण काफी संख्या में युवा नशे की गिरफ्त में पहुंच गए हैं। पुलिस विभाग के एक सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है। 
 

औपचारिक हैं अभी चल रहे केन्द्र
सर्वे में इस बात का भी उल्लेख किया गया है कि जबलपुर समेत समीपस्थ जिलों के सभी नशामुक्ति केन्द्र महज औपचारिकता के लिए खुले हुए हैं। यहां न तो ठीक से उपचार मिलता है, न ही किसी तरह का मोटिवेशन प्रोग्राम होता है, जिससे नशे की गिरफ्त में फंसे युवाओं को बचाया जाए। इस गंभीर मामले को देखते हुए आईजी जोन विवेक शर्मा ने ड्रग एडिक्ट के बेहतर इलाज और ड्रग माफिया पर शिकंजा कसने के लिए एक्शन प्लान तैयार किया है, जिसमें एक हाईटेक नशामुक्ति केन्द्र खोला जाएगा, इस केन्द्र का संचालन पुलिस के सीनियर अधिकारियों की निगरानी में होगा, जिसमें कई निजी व सरकारी स्वास्थ्य संस्थाओं की मदद ली जाएगी।
 

मोटिवेशन के जरिए जुटाई जाएंगी जानकारियां 
नए नशामुक्ति केन्द्र में नशा पीडि़त युवकों को ठीक करने के साथ मनोचिकित्सकों व मोटिवेटरों की मदद से पीडि़तों से मादक पदार्थ बेचने वालों के संबंध में जानकारियाँ जुटाकर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी। नए नशामुक्ति केन्द्र को खोलने के लिए योजना बनाने के साथ जगह भी चिह्नित कर ली गई है। जल्द ही आईजी कार्यालय की तरफ से कलेक्टर को प्रतिवेदन भेजकर इसकी आधिकारिक अनुमति भी ले ली जाएगी। उम्मीद है कि शीघ्र ही यह काम पूरा कर लिया जाएगा और जरूरतमंद युवाओं को इसका लाभ मिलने लगेगा।