भंडारा : मजदूरी के लिए फल-बाग मजदूरों ने कलेक्ट्रेट पर दी दस्तक

November 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, भंडारा. शासकीय फलबाग कार्य में लगाए भंडारा व आंधलगांव के 15 मजदूरों ने 16 माह के लंबित मजदूरी के लिए बुधवार 23 नवंबर को आयटक के जिला सचिव हिवराज उके के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पर दस्तक दी और धरना आंदोलन शुरू किया। अपनी मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी योगेश कुंभेजकर तथा जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी डा. अर्चना कडू को सौंपा। इस अवसर पर जिलाधिकारी कुंभेजकर व कृषि अधिकारी कडू ने आठ से 10 दिनों में बकाया मजदूरी देने का आश्वासन दिया व आंदोलन वापिस लेने काे कहा। उनके सुझाव का सम्मान रखते हुए आंदोलन पीछे लिया गया। 16 माह से लंबित राशि शीघ्र देने, नियमित काम व तय की गई मजदूरी प्रति माह देने, ठेका पद्धति बंद कर पूर्ववत हाजरी पर काम व मजदूरी देने, मनरेगा से कम मजदूरी मिलने से उसमें बढ़ोतरी करने, सभी फल बाग मजदूरों को पहचान पत्र देने आदि मांगों का समावेश था। धरना आंदोलन में आंधलगांव के सुपरवाइजर हेमलता तिड़के ने भेंट दी थी। आंदोलन व प्रतिनिधि मंडल में हिवराज उके के साथ विठ्‌ठल तिरपुडे, भावना भुरे, माया थोटे, वंदना माटे, शीला नागपुरे, सत्यफुला सेलोकर, इंदिरा भुरे, गणेश गभने, माया मानकर, सरस्वता शेंडे, विलास गणवीर व भगवान मेश्राम उपस्थित थे।