• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Lali, a well-known assistant to dacoit Babuli, who was killed in an encounter, was also arrested

दैनिक भास्कर हिंदी: MP : मुठभेड़ में मारे गए डकैत बबुली का बहुचर्चित मददगार लाली भी गिरफ्तार 

September 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क सतना। अंतराज्यीय गैंग लीडर बबुली और उसके दाएं हाथ लवलेश की पुलिस एनकाउंटर में मौत के बाद सुर्खियों में आए गिरोह के बहुचर्चित मददगार लाली उर्फ सुनील कोल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे धारकुंडी थाना क्षेत्र के हर्दी के जंगल में पियरा कगार से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 212, 216, 25-27 आर्म्स एक्ट और एडी एक्ट की दफा 11/ 13 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि लाली उर्फ सुनील का पिता मालिक कोल इसी गिरोह को रसद पहुंचाने की कोशिश के दौरान पहले ही मझगवां पुलिस के हत्थे चढ़ चुका है। 
 23 सितंबर तक रहेगा रिमांड पर 
5 हजार के इनामी 20 वर्षीय लाली उर्फ सुनील निवासी हरसेड़ से पूछताछ के लिए मझगवां पुलिस उसे 23 सितंबर तक रिमांड पर ले गई है। उल्लेखनीय है, 16 अगस्त देशी कट्टे के साथ चवरी के जंगल में मझगवां पुलिस के हत्थे चढ़े बबुली गिरोह के मददगार खेमराज उर्फ खेमू पिता गयादीन कोल (45) निवासी हरसेड़ ने स्वीकार किया था कि लाली उर्फ सुनील और उसका पिता मालिक कोल बबुली गिरोह के अहम मददगार हैं। पिता मालिक कोल की गिरफ्तारी के बाद से पुलिस को लाली की तलाश थी। 
 ऐसे आया था सुर्खियों में 
 उल्लेखनीय है, हाल ही में लेदरी के जंगल में पुलिस एनकाउंटर में बबुली और लवलेश के मारे जाने के साथ ही लाली उर्फ सुनील कोल उस वक्त सुर्खियों में आ गया था,जब चौतरफा इस आशय की अफवाहें उड़ी थीं कि दोनों अंतरराज्यीय बदमाशों को फिरौती की रकम के बंटवारे को लेकर हुए झगड़े में लाली ने मारा था। इसी बीच लाली की मां ने वायरल हुए एक वीडियो में भी इसी बात का दावा किया था। शनिवार को यहां प्रेस कांफ्रेंस में लाली ने कहा कि वो हथियार चलाना ही नहीं जानता है। उसने माना कि वो अपने पिता के साथ गिरोह को रसद पहुंचाने का काम किया करता था। उस पर गिरोह में सक्रिय रुप से शामिल होने का भी दबाव था।