महाराष्ट्र : राज्य में वनक्षेत्र 33 प्रतिशत करने केंद्र से मांगी दो अतिरिक्त ईको बटालियन

June 17th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के मौजूदा वन क्षेत्र 20 फीसदी को बढ़ाकर राष्ट्रीय वन नीति के मुताबिक 33 फीसदी तक करने के लिए केंद्र सरकार से अतिरिक्त दो ईको बटालियन की मांग की गई है। इसके अलावा मराठवाडा ईको बटालियन का कार्यकाल पांच साल के लिए बढ़ाने का भी आग्रह किया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इन मांगों पर अब तक हुई प्रगति को लेकर केंद्रीय रक्षा मंत्रालय से बातचीत करें। मुख्यमंत्री ठाकरे ने शुक्रवार को ईको बटालियन के कामकाज का जायजा लेने के बाद कहा कि इसके जरिए राज्य के सेवानिवृत्त सैनिकों को रोजगार भी मिलेगा। 

मुख्यमंत्री के सरकारी आवास वर्षा पर हुई बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के प्रमुख सलाहकार सीताराम कुंटे, अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह, वन विभाग के प्रमुख सचिव वेणुगोपाल रेड्डी, नई दिल्ली के प्रादेशिक सेना महा निदेशक लेफ्टिनेंट जनरल पीएम सिंह, औरंगाबाद ईको बटालियन के कमांडिंग ऑफीसर प्रादेशिक सेना (ईकॉलॉजी) कर्नल मंसूर अली खान समेत कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने वन विभाग को निर्देश दिए कि ईको बटालियन द्वारा लगाए गए पेड़ों की पांच साल बाद कैसे देखभाल की जाए इसकी व्यवस्था की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए है जहां जिन जगहों पर लोगों की आवाजाही कम है, बीज को प्राकृतिक रुप से पानी मिल सकता है वहां हवाई जहाज की मदद के बीजों का छिड़काव किया जाए। इसके अलावा पहाड़ियों के किनारे स्थित समतल जमीनों पर पेड़ लगाकर तलहटी में बरसात के दौरान जमा किए गए पानी की सोलर पंप के जरिए सूक्ष्म सिंचाई की व्यवस्था की जाए। पहाड़ के नीचे बहने वाले पानी को रोकने की व्यस्था के लिए रोजगार गारंटी योजना का इस्तेमाल कर तालाब खोदने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिए साथ ही उन्होंने कहा कि स्थानीय पेड़ों की प्रजातियों को वरीयता दी जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि क्या अलग-अलग मौसम के मुताबिक फूलों की घाटी तैयार की जा सकती है वन विभाग इसका अध्ययन करे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कहा कि वे शहरों में हरियाली बढ़ाने के लिए ज्यादा से ज्यादा मियावाकी वन विकसित करें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि विकासकार्यों के लिए वन जमीन का इस्तेमाल करने पर पेड़ लगाने की शर्त को कितना पूरा किया जा रहा है इसे लेकर रिपोर्ट तैयार की जाए।

औरंगाबाद ईको बटालियन ने लगाए 662 हेक्टेयर पेड़

कर्नल मंसूर अली खान ने बताया कि औरंगाबाद में ईको बटालियन ने पिछले पांच सालों में 662 हेक्टेयर में 8 लाख 71 हजार 477 पेड़ लगाए हैं। इनमें से 89.54 फीसदी पेड़ अब भी सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि बटालियन ने 2.50 लाख पौधे और तैयार कर लिए हैं। खान ने कहा कि नागपुर, औरंगाबाद, ठाणे, कोल्हापुर में वनों के आसपास और राजगड, रायगड, शिवनेरी किलों के आसपास पिछले मानसून के दौरान हवाई तरीके से बीज छिड़के गए थे।