दैनिक भास्कर हिंदी: सूरत में बवाल: लॉकडाउन से परेशान प्रवासी मजदूर सड़कों पर उतरे, वाहनों को लगाई आग और तोड़फोड़

April 11th, 2020

हाईलाइट

  • घर नहीं जा रहे रहे मजदूरों ने मचाया बवाल
  • पत्थक फेंके और कई गाड़ियों में लगा दी आग

डिजिटल डेस्क, सूरत। लॉकडाउन (Lockdown) के कारण सूरत (Surat) में फंसे कई प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) ने शुक्रवार को जमकर हंगामा किया। मजदूरों ने शुक्रवार रात तोड़फोड़ और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। इस संबंध में एक अधिकारी ने बताया कि ये लोग अपने घर जाने के लिए इंतजाम करने की मांग और अपना देय भुगतान भी जल्द दिए जाने की मांग कर रहे हैं। 

पुलिस ने कहा कि सूरत के लसगण इलाके में कई लोग सड़कों पर उतर आए और पत्थर फेंके। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर 70 को हिरासत में लिया है। सभी लोग अपने घर वापस जाने की मांग कर रहे हैं। बता दें कि गुजरात में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। राज्य में अबतक 308 पॉजिटिव केस आ चुके हैं 19 लोगों की मौत हो चुकी है।

शुक्रवार को 46 नए मामले:
गुजरात में शुक्रवार को करीब 46 नए मामले सामने आए हैं और 2 मौतें हुई हैं। इसमें एक पुरुष (40) को किडनी की समस्या के कारण सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था।  एक अन्य पुरुष (81) को हाई बल्ड प्रेशर और मधुमेह जैसी बीमारी के साथ गुजरात मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च सोसाइटी अस्पताल में एडमिट किया गया था. जहां उनकी मौत हो गई। वहीं चार पॉजिटिव मरीज ठीक होकर घर चले गए।

जनधन खातों में ट्रांसफर किए पैसे सरकारी लेगी वापस? एसबीआई ने दी अहम जानकारी

अहमदाबाद में सबसे अधिक केस:
अहमदाबाद में अबतक सबसे अधिक 153 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। उसके बाद वडोदरा 39, सूरत 24, भावनगर 22, राजकोट 18, गांधीनगर और पाटन 14-14, कच्छ और भरूच 4-4, पोरबंदर 3, गिर सोमनाथ, छोटा उदयपुर व आनंद में 2-2, पंचमहल, जामनगर, मोरबी, साबरकांठा और दाहोदा में 1-1 केस सामने आए हैं।