नगर निगम ने 5 हजार रुपये का लगाया जुर्माना: ड्रम के पानी और डिस्पोजेबल गिलास में मिले मच्छरों के लाखों लार्वा

September 14th, 2021

डिजिटल डेस्क जबलपुर। नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को कचनार सिटी स्थित नेमा भवन का निरीक्षण किया तो यहाँ पानी से भरे दो ड्रम नजर आए। इनमें कई दिनों से पानी भरा हुआ था जिससे उनमें लाखों की संख्या में मच्छरों के लार्वा नजर आए। इसी प्रकार यहाँ होने वाले आयोजनों में डिस्पोजेबल गिलास आदि का उपयोग किया गया था, जिससे जगह-जगह गिलास मिले जिनमें पानी भरा था उनमें भी लार्वा दिखे, जिस पर तत्काल ही समाज के अध्यक्ष पर 5 हजार रुपए का जुर्माना किया गया।
संभाग क्रमांक 15 के सीएसआई धर्मेन्द्र राज ने बताया कि निगमायुक्त संदीप जीआर के निर्देश पर लगातार निरीक्षण किया जा रहा है। कचनार सिटी के पास नेमा समाज का भवन है, जहाँ बैठक और अन्य आयोजन होते हैं। यहाँ पानी से भरे प्लास्टिक के दो ड्रम मिले जिनमें भारी तादाद में मच्छरों के लार्वा मिलने पर 5 हजार रुपए का जुर्माना किया गया। कार्रवाई के दौरान वार्ड सुपरवाइजर प्रवीण कोष्टा और स्वास्थ्य विभाग का अमला भी मौजूद रहा।
रांझी में विधायक ने की कूलरों की जाँच-
रांझी संभाग के चारों वार्डों में लार्वा की जाँच एवं विनष्टीकरण का अभियान चलाया जा रहा है। मंगलवार को विधायक अशोक ईश्वरदास रोहाणी ने बड़ा पत्थर, भगत सिंह वार्ड, लाला लाजपत राय वार्ड एवं अम्बेडकर वार्ड में टीमों के साथ निरीक्षण किया। श्री रोहाणी ने खुद कई घरों में जाँच की और उनसे कूलर हटाने की अपील की। इस दौरान जिन भी घरों में लार्वा पाया गया, वहाँ टीम के द्वारा स्पॉट फाइन किया गया एवं लोगों को डेंगू से बचाव हेतु समझाइश दी गई। विधायक ने रांझी के एसएएफ में चल रहे लार्वा विनष्टीकरण कार्य का निरीक्षण करते हुए सभी से आग्रह किया कि घरों में कूलर और गमलों में पानी को इक_ा न होने दें। अभियान के दौरान क्षेत्रीय नागरिक, दामोदर सोनी, प्रभारी मुख्य स्वच्छता निरीक्षक अनिल मिश्रा, प्रभा शंकर कुशवाहा, अशोक कटारे आदि उपस्थित थे।

 

खबरें और भी हैं...