बीजेपी की चुनावी उड़ान: सपा, बसपा नहीं कर सके वो योगी ने कर दिखाया, अब पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से उड़ान भरेंगे देश के लड़ाकू विमान

November 12th, 2021

हाईलाइट

  • भारत के साथ बीजेपी की आसमानी ताकत

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्स्प्रेस-वे की एयर स्ट्रिप पर हेलिकॉप्टर से उतरे। सीएम योगी ऐसे उतरे मानो दोबारा सत्ता की कुर्सी पर बैठने जा रहे हों। लगे भी क्यों नहीं? सीएम योगी ने सूबे का मुखिया रहते हुए इस एक्सप्रेस वे का निर्माण करवाया। जिसका ख्याल कभी हाथी वाली पार्टी बसपा ने किया तो साइकिल वाली पार्टी सपा ऐसे एक्सप्रेस वे पर चलने का विचार बनाती रही।

साइकिल विचारों की सड़क बनाते रह गई तो बसपा का हाथी मूर्तियों में स्थापित हो गया। कमल की बीजेपी पार्टी ने आसमान में खुशबू की ऐसी उड़ान भरी की विमान भी यूपी की जमीन पर उतरने को बेताब हैं। विमानों की ये बेताबी बीजेपी के वरिष्ठ नेता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुखिया योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पूरी होने जा रही है। जिसके लिए एक्सप्रेस वे की आज जायजा लेने पहुंचे सीएम योगी के सामने तीन लड़ाकू विमान आसमान में अठखेलियां करते नजर आए। वहां मौजूद लोग भी आसमान में कलाबाजियां खाते रहे प्लेन के नजारों का मजा लिया। यूपी सरकार की सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर लड़ाकू विमानों की लैंडिंग और टेक ऑफ की पूरी तैयारी है। यह ट्रायल 13 नवंबर से शुरू होकर 4 दिन तक चलेगा।

                                   

आपकों बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण करेंगे। उस दौरान करीब 30 लड़ाकू विमान आसमान में करतब दिखाते हुए नजर आएंगे। जिसमें राफेल, सुखोई, मिराज जैसे फाइटर प्लेन भी शामिल होने की उम्मीद है। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे देश की राजधानी दिल्ली को मथुरा, आगरा, लखनऊ, आजमगढ़ के रास्ते सीधे गाजीपुर से जोड़ेगा। लखनऊ से किरण मार्क-2, ग्वालियर से मिराज, गोरखपुर से जगुआर, बरेली से सुखोई-30 एमकेआई और आगरा से एएन-32 विमान के उतारने की तैयारी की गई है।

करीब पांच साल पहले लखनऊ से गाजीपुर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण शुरू हुआ था। इस एक्सप्रेस वे पर तीन तीन एयर स्ट्रिप बनने से यूपी देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है।

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के रनवे पर लैंडिंग के लिए भारतीय वायुसेना के 5 बड़े एयरबेस से विमान उड़ान भरेंगे। यहां पर भारत अपनी आसमानी ताकत को दुनिया को दिखाएगी। जिसके जरिए बीजेपी अपनी चुनावी उड़ान भरेगी।