• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Pankaja attack on Uddhav government, said - OBC society will not allow Aghadi leaders to roam outside the house

औरंगाबाद: पंकजा का उद्धव सरकार पर हमला, कहा -ओबीसी समाज आघाड़ी नेताओं घर से बाहर घूमने नहीं देगा

October 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, औरंगाबाद। पूर्व मंत्री और भाजपा नेता पंकजा मुंडे ने ओबीसी समुदाय के संभागीय सम्मेलन में राज्य सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिस मुख्यमंत्री की उठते-बैठते जाति की बात होती थी, उसी ने मराठा समुदाय को आरक्षण दिया था, लेकिन वर्तमान सरकार यह आरक्षण भी नहीं बचा सकी। उन्होंने कहा कि ओबीसी पर अन्याय हो रहा है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हमें जाति-जाति के झगड़े में नहीं पड़ना और न ही तनाव निर्माण करना है, लेकिन इस अन्याय को बूथ तक लेकर जाना है। गांव में जाति की दीवारें अभी भी खत्म नहीं हुई हैं। यहां बहुजन की प्रताड़ना हो रही है। महिलाओं पर अन्याय, अत्याचार हो रहे हैं। महाराष्ट्र के लिए यह अच्छी बात नहीं है। मुंडे भारतीय जनता पार्टी के ओबीसी विभाग की ओर से संभागीय सम्मेलन का उद्घाटन करने पहुंची थीं। मंच पर केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री डॉ. भागवत कराड़, पूर्व मंत्री संजय कुटे, पूर्व मंत्री राम शिंदे, विधायक हरिभाऊ बागड़े, विधायक अतुल सावे, इद्रीस मुलतानी, अनिल मकरिये, भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष माधुरी अदवंत-देशमुख, अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एजाज देशमुख, बस्वराज मंगरुले, पूर्व महापौर भगवान घड़ामोड़े, पूर्व नगरसेवक समीर राजूरकर, भाजपा शहर उपाध्यक्ष दयाराम बसैये, शालिनी बुंधे, पूर्व नगरसेवक प्रमोद राठोड़, पूर्व मंत्री नामदेव गाडेकर सहित अन्य उपस्थित थे।

आघाड़ी सरकार ने पीठ में मारा छुरा

सम्मेलन में पंकजा ने आरक्षण के लिए किए जा रहे भाजपा के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि आजकल बहुजन शब्द की गलत व्याख्या करने की साजिश हो रही है। बहुजन ने एक बार ओबीसी के आरक्षण का मुद्दा उठाया नहीं, कि मराठा आरक्षण की चर्चा शुरू हो गई। इन्हीं षड्यंत्रकर्ताओं ने मराठा समुदाय की पीठ में छुरा मारा है, उनका आरक्षण खत्म करवा दिया। 

नहीं तो ओबीसी समाज आघाड़ी नेताओं को घूमने नहीं देगा

भाजपा नेता ने कहा कि बाबासाहब ने वंचितों और पीड़ितों को लाभ पहुंचाने के लिए आरक्षण दिया। इसके चलते इतने लोग मंत्री बने। सरकारें आती-जाती रहती हैं, लेकिन समाज को न्याय नहीं मिलता। इतने वर्षों बाद भी आरक्षण के लिए संघर्ष जारी है। ओबीसी को आरक्षण ही मिलना चाहिए। इसलिए ओबीसी के लिए राज्य सरकार ने अध्यादेश जारी किया है, वह टिकना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि ओबीसी समाज आघाड़ी नेताओं को घूमने नहीं देगा

ओबीसी विरोधी है आघाड़ी सरकार : कराड़

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री डॉ. कराड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बेहतरीन काम कर रही है। गरीब और जरूरतमंदों के विकास के लिए मोदी योजनाएं ला रहे हैं। भारत को सक्षम बनाने के लिए दिन-रात एक किया जा रहा है। केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार करते समय मोदी ने 77 में से 27 मंत्री ओबीसी से बनाए। उनमें मैं भी एक हूं। प्रधानमंत्री मोदी, विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस, प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटील, पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे ने अपने दौर में ओबीसी को इंसाफ देने का काम किया। इसलिए अब हमें इस ओबीसी विरोधी सरकार के खिलाफ पूरी ताकत से उठकर काम करना है।

अच्छे निर्णयों पर भी नहीं हो रहा अमल : कुटे

पूर्व मंत्री संजय कुटे ने कहा कि राज्य में अनेक महामंडल बंद गिरने की कगार पर हैं। ओबीसी छात्रावास की फाइलें बंद हैं। जलशिवार योजना ठप है। हमारे दौर में अनेक अच्छे निर्णय लिए गए, लेकिन उन पर भी ठाकरे सरकार अमल नहीं कर रही है। पूर्व मंत्री राम शिंदे ने कहा कि ठाकरे सरकार की लापरवाही से ओबीसी आरक्षण चला गया। समुदाय के लोग नींद से जागकर सरकार को सबक सिखाएं। इस अवसर पर ओबीसी विभाग के प्रदेशाध्यक्ष योगेश टिलेकर ने भी विचार व्यक्त किए। 

खबरें और भी हैं...