comScore

शर्तों के साथ रिचा चड्ढा से माफी मांगने को तैयार हैं पायल घोष, हाईकोर्ट ने कहा - दो दिनों में सहमति पत्र करें दायर

शर्तों के साथ रिचा चड्ढा से माफी मांगने को तैयार हैं पायल घोष, हाईकोर्ट ने कहा - दो दिनों में सहमति पत्र करें दायर

डिजिटल डेस्क, मुंबई।  बॉम्बे हाईकोर्ट ने फिल्म अभिनेत्री रिचा चड्ढा व पायल घोष को अपने बीच विवाद के निपटारे को लेकर सहमति पत्र दायर करने के लिए दो दिन का समय दिया है। हाईकोर्ट में चड्ढा की ओर से फिल्म अभिनेत्री घोष के खिलाफ दायर मानहानि के दावे पर सुनवाई चल रही है। जिसमें चड्ढा ने घोष को उन आपत्तिजनक बयानों को वापस लेने का निर्देश देने का आग्रह किया है, जो घोष ने उनके खिलाफ दिए थे। घोष इन दिनों फिल्म निर्माता-निर्देशक अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न के आरोपों के चलते सुर्खियों में है। सोमवार को न्यायमूर्ति ए के मेनन के सामने चड्ढा की वकील सबीना बेदी सच्चर ने कहा कि पिछली सुनवाई के दौरान घोष ने मेरे मुवक्किल से माफी मांगने की तैयारी दिखाई थी लेकिन उसने अब फिर सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर कहा है कि वे माफी नहीं मांगेगी।
   
इस पर न्यायमूर्ति ने घोष के वकील नीतिन सातपुते से मामले को सुलझाने के बारे में सवाल किया। जवाब में घोष के वकील नीतिन सातपुते ने कहा कि मेरी मुवक्किल मामले को सुलझाने की इच्छुक हैं और अपना बयान भी वापस लेने के लिए तैयार हैं। वे कुछ शर्तों के साथ माफी मांगने की इच्छुक हैं। जैसे माफी के बाद याचिकाकर्ता मेरे मुवक्किल के खिलाफ आपराधिक मामला नहीं दर्ज कराएंगी। उन्होंने कहा कि याचिकाकर्ता ने सोशल मीडिया में अपनी जीत को लेकर पोस्ट डाला था। इसके बाद मेरे मुवक्किल ने भी अपनी राय व्यक्त की थी। 

इन दलीलों को सुनने के बाद खंडपीठ ने मामले से जुड़े दोनों पक्षों को आपस में बात कर सहमति पत्र दायर करने को कहा। खंडपीठ ने फिलहाल इस मामले की सुनवाई 14 अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी है। 


 

कमेंट करें
Vgakq