comScore

 भर बरसात पानी को तरसे लोग - दो दिन से सप्लाई बंद

 भर बरसात पानी को तरसे लोग - दो दिन से सप्लाई बंद

डिजिटल डेस्क शहडोल । नगर में दो दिन से पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। त्योहार के बीच में शहरवासी बूंद-बूंद पानी के लिए मोहताज हो गए हैं। सोमवार को लोगों ने किसी तरह काम चलाया, लेकिन मंगलवार को भी पानी की सप्लाई नहीं होने से तमाम घरेलू काम रुक गए। बताया जाता है कि रविवार को गाज गिरने से इंटक वेल में लगे दोनों ट्रांसफॉर्मर फुंक गए। इससे इंटक वेल से पानी फिल्टर प्लांट में आ ही नहीं रहा है।  नपा के सरफा फिल्टर प्लांट में तीन ट्रांसफॉर्मर लगे हुए हैं। इनमें से 33 केवी के दो ट्रांसफार्मर इंटक वेल से पानी ऊपर चढ़ाने के लिए लगाए गए हैं, जबकि एक ट्रांसफॉर्मर पानी को फिल्टर करने के लिए लगाया गया है। रविवार को बिजली गिरने से इंटक वेल वाले दोनों ट्रांसफॉर्मर फुंक गए। सोमवार रात से सीएमओ समेत नपा अमला ट्रांसफॉर्मर को सुधरवाने में जुटा हुआ है। शहर के अधिकतर इलाकों में लोग नगर पालिका के पानी के ही भरोसे रहते हैं। नगर में 11 टंकियों की मदद से अलग-अलग वार्डों में पानी की सप्लाई की जाती है। पानी नहीं आने से लोग बेहाल हैं। हैंडपंप और जिनके घरों में बोर हैं, वहां से पानी लेकर काम चला रहे हैं।
रिलायंस से ले रहे जनरेटर
मंगलवार तक ट्रांसफॉर्मर नहीं सुधरने के कारण रिलायंस सीबीएम प्रोजेक्ट से जनरेटर मांगा गया है। रिलायंस के पास उतनी क्षमता वाला जनरेटर है, जितनी क्षमता ट्रांसफार्मर की है। नपा के अधिकारियों का कहना है कि रात में जनरेटर की मदद से पानी को फिल्टर प्लांट तक लाकर टंकियों में पानी भरा जाएगा और सुबह नगर में आपूर्ति की जाएगी। जब तक ट्रांसफॉर्मर नहीं बनता है, जनरेटर के माध्यम से पानी की सप्लाई सुचारू की जाएगी। 
इनका कहना है
 रात से ट्रांसफार्मर सुधरवाले में लगे हुए हैं। वैकल्पिक इंतजाम के तहत रिलायंस का जनरेटर ले रहे हैं। उम्मीद है कि बुधवार को पानी की सप्लाई होगी। 
अजय श्रीवास्तव, सीएमओ
 दो दिन से पानी की सप्लाई नहीं हुई है। संकट तो है, लेकिन किसी क्षेत्र से डिमांड नहीं आई थी, नहीं तो टैंकर से पानी की सप्लाई कराई जाती। 
उर्मिला कटारे, नपा अध्यक्ष
 

कमेंट करें
tYGxO