comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

पीएमसी ने नियामक आयोग को भेजा 13 पैसे प्रति यूनिट एफसीए बढ़ाने का प्रस्ताव

पीएमसी ने नियामक आयोग को भेजा 13 पैसे प्रति यूनिट एफसीए बढ़ाने का प्रस्ताव

मंजूरी मिली तो बिजली दर की दोहरी मार लगेगी उपभोक्ताओं को, तीन माह के लिए तय होगा एफसीए
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
मप्र पावर मैनेजमेंट कंपनी ने 13 पैसे प्रति यूनिट फ्यूल ऑफ कास्ट एडजस्टमेंट (एफसीए) बढ़ाने का प्रस्ताव मप्र नियामक आयोग को भेजा है। अगर इसे मंजूरी मिलती है तो 1 सौ यूनिट की खपत पर बिल में एक रुपए की राशि बढ़ जाएगी। बिजली उपभोक्ताओं पर यह दर वृद्धि की दोहरी मार होगी, क्योंकि दिसंबर माह से नया टैरिफ प्रभावी किया गया है जो जनवरी माह में मिलने वाले बिल में जुड़कर आएगा, इसके बाद अब एफसीए की राशि भी जुड़ेगी। हालाँकि अभी एफसीए को मंजूरी मिली नहीं है। यह तीन माह के लिए लागू किया जाता है। 
जानकारों का कहना है कि नया वर्ष बिजली उपभोक्ताओं के लिए काफी कष्टप्रद माना जा रहा है। नियामक आयोग द्वारा हाल ही में नए टैरिफ को मंजूरी दिए जाने के बाद 1.98 फीसदी बिजली दामों में वृद्धि की गई है। इस वृद्धि से प्रति यूनिट बिजली की दर में 15 से 25 पैसे तक की बढ़ोत्तरी की गई है। 

कमेंट करें
KCb7B