दैनिक भास्कर हिंदी: पोस्ट आफिस घोटाले के फरार आरोपी धरे गये - डेढ़ करोड़ से ज्यादा का मामला

November 8th, 2019

डिजिटल डेस्क सीधी। पोस्ट आफिस घोटाले के फरार एजेंट पिता-पुत्र को आज कोतवाली पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पोस्ट आफिस के बड़े एजेंटों में शामिल सुरेन्द्र ङ्क्षसह चंदेल पिता उजागर लाल सिंह चंदेल एवं इनके पुत्र शशिप्रभाकर ङ्क्षसह निवासी रामडीह के विरूद्ध धोखाधड़ी का अपराध पंजीबद्ध रहा है। पोस्टआफिस में पाच वर्ष पहले डेढ़ करोड़ से ज्यादा का घोटाला किया था। 
सैकड़ों खाता धारकों को चूना लगाया गया 
ज्ञात हो कि पिता-पुत्र द्वारा सुनियोजित तरीके से सैकड़ों खाता धारकों को चूना लगाया गया था। यहां से फरार होने के लिए पिता-पुत्र द्वारा सीधी शहर में स्थित अपनी करोड़ों की भूमि एवं मकान को बेेच दिया गया था। साथ ही पूरे परिवार के साथ शहर से चम्पत हो गए थे। जब खाताधारकों द्वारा दोनो एजेंटों की तलाश की गई तो इनका कोई अता पता नही मिला। इसके बाद एक-एक करके खाताधारकों द्वारा सिटी कोतवाली थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। जिन पर धारा 406,418,419,420,467,468,471 आईपीसी के तहत अलग-अलग अपराध पंजीबद्ध था। हालांकि लाख प्रयास के बाद भी घोटाले के आरोपी पिता-पुत्र गिरफ्तार नहीं हो सके थे। बताया गया है कि आरोपियों के पांच साल बाद वापस लौटने की सूचना मिलते ही सिटी कोतवाली थाना प्रभारी शेषमणि पटेल ने सक्रियता दिखाई और दोनो आरोपियों को सफलता पूर्वक गिरफ्तार कराते हुए न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत  किया। एजेंट पिता-पुत्र की गिरफ्तारी से सैकड़ों खाताधारकों को फिर से अपनी डूबी राशि मिलने की उम्मीदें बढ़ी है। इनके द्वारा ज्यादातर ऐसे लोगों को खाताधारक के रूप में फंसाया जाता था जो आर्थिक रूप से सम्पन्न थे। इनके धोखाधड़ी के शिकार बड़े व्यवसाईयों,अधिकारियों,कर्मचारियों के साथ ही आम लोग भी हुए है। कई लोगों की इनके भूमिगत होने से सड़क में पूरे परिवार के साथ आ जाने की स्थिती निर्मित हुई है। यह माना जा रहा है कि पिता-पुत्र द्वारा डेढ़ करोड़ से ऊपर की धोखाधड़ी सुनियोजित रूप से की गई है।