मॉकड्रिल: वाहन दुर्घटना होने की दी थी जानकारी: स्टेशन में 5 हूटर बजते ही दौड़ पड़ी अधिकारियों को लेकर बचाव ट्रेन

February 3rd, 2022

डिजिटल डेस्क जबलपुर। ट्रेन हादसा होने पर तत्काल बचाव कार्य करने और मेडिकल सुविधा मुहैया कराने के साथ ही सुरक्षा को परखने गुरुवार को भेड़ाघाट व भिटौनी स्टेशन के बीच ट्रेन हादसे की मॉकड्रिल की गई। हादसे को रेलवे ट्रैक पर गेट नंबर 308 पर दर्शाया गया, जहाँ पूर्वाह्न 11.40 बजे ट्रैक पर एक वाहन के पलट जाने की सूचना मिलते ही मुख्य स्टेशन में एक के बाद एक लगातार पाँच हूटर बजे। हूटर बजते ही रेलवे के अधिकारियों के साथ ही मेडिकल वैन व राहत ट्रेन मौके पर रवाना की गई। करीब 20 मिनट में मेडिकल वैन भेड़ाघाट स्टेशन पहुँच गई। इस दौरान अपर मंडल रेल प्रबंधक अमितोज बल्लभ, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरएन मिश्रा, वरिष्ठ मंडल अभियंता मनीष पटेल, संजय मनोरिया, देवेश सोनी, केके पटेल सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुँचे। यहाँ पहुँचने के बाद बताया गया कि रेलवे की त्वरित गति से कार्य प्रणाली को परखने के लिए यह दुर्घटना रेलवे द्वारा पूर्व नियोजित एक मॉकड्रिल है।
वाहन दुर्घटनाग्रस्त होने की दी जानकारी
बताया जाता है कि इस मॉकड्रिल का उद््देश्य रेलवे कर्मचारियों की कार्यकुशलता, तत्परता तथा दुर्घटना के प्रति संवेदनशीलता को जाँचने के लिए आयोजित किया गया था। जिसके चलते हूटर बजने के बाद वरिष्ठ अधिकारियों, सेफ्टी टीम, राहत दल को यह सूचना दी गई िक भेड़ाघाट के पास एक वाहन की दुर्घटना हो गई है जिसमें अनेक लोग हताहत हुए हैं। इस सूचना पर रेलवे की पूरी टीम मौके पर रवाना हुई।

खबरें और भी हैं...