• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Roads will be the focus for city development, Divisional Commissioner told officials - complete work fast

दैनिक भास्कर हिंदी: शहर विकास के लिए सड़कों पर होगा फोकस ,संभागायुक्त ने अधिकारियों से कहा- तेजी से पूरा करें काम

June 18th, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर । शहर के सुनियोजित विकास के लिये जरूरी है कि यातायात को सुगम बनाया जाए, इसके लिये सभी संबंधित विभाग तेजी से शहर के प्रमुख प्रस्तावित मार्गों की कार्ययोजना पर कार्य करें। नगर निगम, विकास प्राधिकरण, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के अधिकारियों की बैठक संभागायुक्त कार्यालय में बुधवार को आयोजित की गई। बैठक में संभागायुक्त महेश चंद्र चौधरी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर के विकास को गति देने के लिये सबसे पहले बेहतर सड़कों के निर्माण पर जोर दिया जाए। बैठक में कलेक्?टर भरत यादव, निगमायुक्त अनूप कुमार सिंह, सीईओ जेडीए राजेन्?द्र राय, स्?मार्ट सिटी सीईओ आशीष पाठक सहित अन्य विभागों के प्रमुख अधिकारी मौजूद थे।
जल्द हटाए जाएँ अतिक्रमण
 संभागायुक्त ने अधिकारियों से कहा कि विकास योजना के प्रस्?तावित प्रमुख मार्गों का सीमांकन स्?थल पर जाकर किया जाये, ताकि प्रस्?तावित मार्गों के अलाइमेंट पर अवैध निर्माण रोके जा सकें। इनके अलावा विभाग आवश्यक होने पर भूमि अधिग्रहण सहित अन्य सभी कार्रवाइयों को समय पर पूर्ण कर लें।
एमआर-4 सहित अन्य मार्गों पर होगा फोकस
संभागायुक्त ने शहर के प्रमुख प्रस्तावित मार्गों पर चर्चा करते हुए कहा कि एआरपी-4 (50 मीटर चौड़ा) जो कि मेडिकल मार्ग से विजय नगर व आईएसबीटी होते हुये ग्राम महाराजपुर व बायपास को जोड़ता है पर तेजी से काम किया जाए। इसके अलावा एसआर-2 (30 मीटर चौड़ा) जो कि स्?कीम नंबर 65 से पाटन रोड तक, एसआर- 3 (35 मीटर चौड़ा) जो कि स्?कीम नंबर 41 में निर्मित एआरपी 4 से वर्तमान बायपास ग्राम बहदन तक, एसआर 1 (30 मीटर चौड़ा) जो कि पाटन रोड ग्रीन सिटी होते हुये एआरपी-4 में मिलता है। एआरपी-2 (50 मीटर चौड़ा) जो कि कुदवारी एआरपी-4 से खिरियाकला वर्तमान बायपास तक, बायपास मार्ग 60 मीटर जो कि कटनी मुख्?य मार्ग से रिछाई औद्योगिक क्षेत्र से मोहनिया होते हुये पिपरिया कुंडम मार्ग को जोड़ता है। इसके अतिरिक्?त प्रस्?तावित बायपास 45 मीटर जो कि गौरैया ग्राम मंडला मार्ग से डुमना होते हुये पिपरिया कुंडम मार्ग तक है। इन समस्?त मार्गों के लिये क्रियान्?वयन संस्?था सर्वप्रथम योजनाबद्ध तरीके से शासन द्वारा प्रकाशित नियमों के अंतर्गत योजना तैयार करे। संभागायुक्त ने कहा कि विभाग जल्द से जल्द योजना तैयार करे, इन पर आगामी बैठक में पुन: चर्चा होगी।

 

खबरें और भी हैं...