दैनिक भास्कर हिंदी: इंटरनेट कैफे पर आरपीएफ ने मारा छापा, लाखों रुपए के ई-टिकट बरामद

August 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। रेलवे टिकट की अवैध तरीके से बुकिंग करने का काला कारोबार चलाने वाले एक इंटरनेट कैफे पर आरपीएफ की टीम ने छापेमारी कर लाखों रुपए के रेल टिकट जब्त करने में सफलता पाई है। कार्रवाई के दौरान कैफे के संचालक के पास से कई ईमेल आईडी, रिजर्वेशन फॉर्म, डायरियां और मोबाइल नम्बर मिले हैं, जिनके बारे में कड़ी पूछताछ की जा रही है। आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि काफी समय से विजय नगर दीनदयाल चौक के पास स्थित साईं कालोनी में संचालित साहू इंटरनेट कैफे में रेल टिकट का अवैध कारोबार होने की शिकायत मिल रही थी, जिसकी लगातार निगरानी करने के बाद गुरुवार की शाम कैफे पर सुनियोजित तरीके से उप-निरीक्षक इंद्रनारायण बघेल, प्रधान आरक्षक संजय सिंह, आरक्षक अमित, हीरेंद्र सिंह, मनीष तिवारी और आर. शिवराम शर्मा ने घेराबंदी कर छापेमारी की कार्रवाई कर रेल टिकट के काले कारोबार को बेनकाब कर दिया गया। छापेमारी में साहू इंटरनेट कैफे के संचालक वीरेन्द्र कुमार साहू पिता मुन्नालाल साहू के पास से 2 लाख 23617 रुपए की 315 ई-टिकट और 11 हजार 362 रुपए की 14 लाइव टिकट जब्त की गई हैं।

9 पर्सनल आईडी मिलीं, आईआरसीटीसी से मांगी जानकारी

आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि साहू इंटरनेट कैफे में छापेमारी के बाद जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि कैफे का संचालक वीरेन्द्र साहू उर्फ वीरु 9 पर्सनल आईडी से रेल टिकट की बुकिंग का अवैध कारोबार कर रहा था। इसके अलावा आरोपी की 9 ई-मेल आईडी का भी खुलासा हुआ है, जिससे बुक की गई रेल टिकटों के ताजे और पुराने रिकॉर्ड के बारे में टिकट के नम्बर के आधार पर आईआरसीटीसी से जानकारी मांगी गई है, जिसमें कई तरह के खुलासे होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि यह कार्रवाई प्रधान मुख्य सुरक्षा रेलवे सुरक्षा बल कंचन चरण और मंडल सुरक्षा आयुक्त जबलपुर अनिल भालेराव महोदय के निर्देश पर की गई। पिछले माह ऑपरेशन थंडर के बाद रेल टिकट का अवैध करने वाले दलालों के खिलाफ आरपीएफ द्वारा की गई यह दूसरी सबसे बड़ी कार्रवाई है।
 

खबरें और भी हैं...