निशाना : संदीपान भूमरे बोले - उद्धव ठाकरे से मुख्यमंत्री शिंदे का काम बेहतर

September 11th, 2022

डिजिटल डेस्क, औरंगाबाद। रोजगार गारंटी योजना और फलोत्पादन मंत्री संदीपान भूमरे ने कहा कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सोमवार को पैठण तहसील के दौरे पर आ रहे हैं। पैठण के स्टेडियम पर दोपहर 2 बजे उनका सत्कार होना है। वे आम सभा को भी संबोधित करने के साथ ही पैठण में 100 बिस्तर का अस्पताल, उद्यान के लिए निधि का ऐलान करेंगे। नागरी सत्कार में केंद्रीय रेलवे राज्यमंत्री रावसाहब दानवे, केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री डॉ. भागवत कराड़, कृषि मंत्री अब्दुल सत्तार, सहकारिता मंत्री अतुल सावे के अलावा भाजपा-शिंदे गुट के विधायक उपस्थित रहेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर कटाक्ष करते हुए भूमरे ने कहा कि  उनके कार्यकाल में विकास कार्य नहीं हुए। ठाकरे के बनिसब्त मुख्यमंत्री शिंदे का कार्य अच्छा होने से उनका सत्कार कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

मंत्री भूमरे ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुख्यमंत्री शिंदे व उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के प्रयासों से पैठण तहसील को 2 हजार करोड़ की निधि मिलने से पैठण विस क्षेत्र के नागरिकों ने शिंदे का सत्कार करने का संकल्प किया है। चित्तेगांव, बिडकीन, फारोला, ढोरकीन, कवड़गांव, पिंपलवाडी समेत अन्य स्थानों पर शिंदे का सत्कार रखा गया है। पैठण में नागरी सत्कार से पहले मुख्यमंत्री एकनाथ महाराज के समाधि के दर्शन करेंगे। बाद में शिवाजी महाराज और डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्पहार अर्पित कर अभिवादन करेंगे। नवीनीकरण के बाद सहकारी बैंक का फीता काटकर उद्घाटन करेंगे।

मंत्री भूमरे ने कहा कि मुख्यमंत्री शिंदे अच्छा कार्य कर क्षेत्र में विकास कार्याेंं के लिए बड़े पैमाने में निधि दे रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ठाकरे न हमें मिले और न पत्रकारों को। युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने पैठण में आकर सिर्फ भीड़ जुटाई, विकास कार्याें के लिए निधि आवंटित नहीं की। दावा किया कि नागरी सत्कार में हजारों की संख्या में लोग आएंगे और उनकी गिनती करना असंभव है। आम सभा के बाद शिंदे अपेगांव को ज्ञानेश्वर माऊली के दर्शन के लिए जाएंगे। पाचोड़ में शिंदे का एक घंटा समय आरक्षित है। शिंदे पाचोड़ से हवाईअड्‌डे पर आने के बाद मंुबई रवाना होगे। मुख्यमंत्री शिंदे को पैठण लेकर आने करीब एक माह से तैयारियों का दौर जारी था। मंत्री भूमरे ने कहा कि ब्रह्मगव्हाण को निधि दिलाने वे दो सालों से प्रयासरत थे और अब निधि मिली। पैठण में फोर लेन, छह लेन सड़क बनने से विकास के द्वार खुलेंगे और कई कंपनियां यहां का रुख करेगी। याद दिलाया कि पैठण की खस्ताहाल सड़क के चलते एक कंपनी ने निवेश करने से साफ इनकार कर उल्टे पैर लौट गई है।  

शिरसाठ ने साधी चुप्पी

एकनाथ शिंदे की अगुवाई में बगावत कर महाविकास आघाड़ी को सत्ता से बेदखल करने वालों में औरंगाबाद पश्चिम के विधायक संजय शिरसाठ भी शामिल हैं। उन्हें मंत्री पद मिलने की उम्मीद है, पर पहले मंत्रिमंडल के विस्तार में उनका नाम नहीं आ पाया। ऐसे में संवाददाता सम्मेलन में शिरसाठ क्या टिप्पणी करेंगे इस ओर सभी की नजरे लगी हुईं थीं, पर उन्होंने चुप्पी साध ली। मंत्री भूमरे ने कहा कि विधायक संजय शिरसाठ शांत हैं और अब वें आगे भी शांत ही रहेंगे। पैठण की आम सभा और पाचोड़ की बैठक में उपस्थित रहेंगे। संवाददाता सम्मेलन में कृषि मंत्री अब्दुल सत्तार, सहकारिता मंत्री अतुल सावे, विधायक प्रदीप जायसवाल, रमेश बोरनारे, भाजपा जिलाध्यक्ष विजय औताड़े, शिंदे गुट जिलाध्यक्ष राजेंद्र जंजाल आदि उपस्थित थे।