comScore

सतना - पुलिस की डकैतों से मुठभेड़ ,50 हजार के इनामी बदमाश समेत दो गिरफ्तार

सतना - पुलिस की डकैतों से मुठभेड़ ,50 हजार के इनामी बदमाश समेत दो गिरफ्तार

 डिजिटल डेस्क सतना। तराई में वर्चस्व बनाने की कोशिश कर रहे नवोदित गैंग से एक बार फिर पुलिस आमना-सामना हो गया। इस बार भीषण मुठभेड़ के बाद 50 हजार के इनामी बदमाश समेत दो डकैतों को पकड़ लिया गया,जिनके कब्जे से दो रायफल  व बड़ी संख्या में कारतूस बरामद किए गए हैं। चित्रकूट पुलिस ने बताया कि मऊ थाना क्षेत्र के शिवपुर के निवासी हनीफ पुत्र रज्जाक उर्फ मुखिया ने पुलिस से बचने के लिए जंगल का रास्ता पकड़ लिया और कुछ अन्य आदतन बदमाशों के साथ मिलकर नया गिरोह खड़ा कर लिया। यह गैंग मानिकपुर, मऊ, मारकुंडी और शंकरगढ़ के जंगलों में लगातार मूवमेंट कर तेंदूपत्ता ठेकेदारों,व्यापारियों और किसानों से रंगदारी वसूलने लगा था। कुछ दिन पूर्व पुलिस के साथ मुठभेड़ में यह गिरोह बचकर भाग निकला था,तभी से तलाश तेज कर दी गई थी। इसी बीच रविवार सुबह स्वाट टीम प्रभारी श्रवण कुमार को मुखबिर से खबर मिली की हनीफ गैंग मानिकपुर थाना क्षेत्र के सुअर गढ़ा जंगल में चेक डैम के पास आराम फरमा रहा है। तब पुलिस की दो टीमों ने तेजी से उस जगह पहुंचकर घेराबंदी कर डकैतों को सरेंडर के लिए ललकारा तो बदमाशों ने हथियार डालने के बजाय फॉयरिंग शुरु कर दी,जवाब में पुलिस ने बंदूकों के मुंह खोल दिए। लगभग 1 घंटे तक दोनों तरफ से गोलीबारी होती रही जिसमें तीस से ज्यादा राउंड फॉयर किए गए।
सर्चिंग में मिले दो डकैत
धीरे-धीरे डकैतों की तरफ से फॉयरिंग रुक गई तब पुलिस ने सर्चिंग शुरु की तो झाडिय़ों में छिपे दो बदमाश पकड़ में आ गए, जिनकी पहचान 50 हजार के इनामी  मुबारक उर्फ भोले पुत्र जद्दन निवासी शिवपुर थाना मऊ जिला चित्रकूट और केशन रैदास पुत्र सुकरु निवासी चंदई तिलौरी के रुप में की गई। मुबारक के पैर में गोली लग गई थी,लिहाजा उसे कड़ी निगरानी में कर्बी अस्पताल भेज दिया गया।
दो रायफल और कारतूस बरामद
इनामी डकैत के कब्जे से 315 बोर की रायफल, 5 जिंदा कारतूस और 4 खोखे बरामद हुए तो उसके साथी से 12 बोर की दुनाली के साथ 1 जिंदा कारतूस और 10 खोखे मिले। इसके अलावा डेढ़ दर्जन से ज्यादा चले हुए खोखे भी जब्त किए गए। मुठभेड़ के दौरान गैंग लीडर हनीफ अपने साथी शंकर और मैकू केवट के साथ जंगल की आड़ लेकर भाग निकला। डकैतों का सामना करने वाली एक  टीम में यूपी के चित्रकूट जिले की स्वाट टीम के प्रभारी इंस्पेक्टर श्रवण कुमार के साथ आरक्षक रहीश, राहुल,धर्मेन्द्र तो वहीं दूसरे दल में मानिकपुर थाना प्रभारी केके मिश्रा,क्राइम इंचार्ज भास्कर मिश्र, एसआई अनिल कुमार, सुरेश कुमार, आरक्षक अरविंद कुमार, विकास और हरेन्द्र शामिल थे। इधर मुठभेड़ की खबर लगते ही नयागांव, धारकुंडी और मझगवां पुलिस भी अलर्ट पर थी,सीमा क्षेत्र में लगातार पेट्रोलिंग भी की जा रही थी
 

कमेंट करें
mdAic