दैनिक भास्कर हिंदी: सतना विधायक भी लोकसभा के लिए टिकिट के दावेदारों की फेहरिस्त में

February 4th, 2019

डजिटल डेस्क, सतना। लोकसभा के आसन्न आम चुनाव में कांग्रेस के टिकट के दावेदारों की फेहरिस्त में एक और नाम जुड़ गया है। दैनिक भास्कर से बातचीत में कांग्रेस के सतना विधायक सिद्धार्थ सुखलाल कुशवाहा ने स्पष्ट किया कि अजय सिंह राहुल हमारे सर्वमान्य नेता हैं,अगर पार्टी उन्हें कोई और दायित्व देते हुए लोकसभा के लिए हमें आदेश देती है तो पार्टी का हर निर्णय हमारे लिए शिरोधार्य है। जिला पंचायत की सदस्य पत्नी प्रीति कुशवाहा के नाम की दावेदारी संबंधी खबरों के सोशल मीडिया पर वायरल होने से जुड़े एक सवाल के जवाब में विधायक सिद्धार्थ ने कहा कि सतना संसदीय क्षेत्र में वर्ष 1996 से अब तक के चुनाव नतीजों के आधार पर समर्थकों की ऐसी मंशा अस्वाभाविक नहीं है।

किसानों को हक चाहिए, खैरात नहीं
आम बजट पर को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने कहा कि हर साल युवाओं को करोड़ों के रोजगार देने का दावा करने वाली मोदी सरकार अबकि युवाओं के लिए रोजगार का जिक्र करने तक का साहस नहीं जुटा पाई है। उन्होंने कहा कि देश के अन्नदाता किसानों का इससे बड़ा अपमान और क्या होगा कि फसलों का अच्छा मूल्य देने की गारंटी के बजाय भाजपा सरकार ने किसानों के लिए प्रतिदिन 17 रुपए का हर्जाना तय कर दिया है। विधायक कुशवाहा ने कहा कि सरकार का खजाना भरने और देश को रोटी खिलाने वाले किसानों को खैरात नहीं उनका वाजिब हक मिलना चाहिए। किसानों को खाद-बिजली और पानी की भी गारंटी दी जानी चाहिए।

बसपा की पूर्व विधायक ऊषा ने थामा कांग्रेस का हाथ
बसपा की पूर्व विधायक ऊषा चौधरी ने कांग्रेस का थामन दाम लिया है। विधानसभा के विगत चुनाव में रैगांव सीट से जमानत खोने के बाद ऊषा चौधरी को बसपा हाईकमान ने बाहर का रास्ता दिखा दिया था। अब वो अपनी नई राजनैतिक पारी की शुरुआत कांग्रेस के साथ करेंगी। शनिवार को ऊषा चौधरी ने भोपाल स्थित सीएम आवास में मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली।

गौरतलब है, कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री और बसपा के पूर्व प्रदेश प्रभारी सुनील बोरसे ने ऊषा चौधरी को कांग्रेस में लाने में अहम भूमिका निभाई। श्री बोरसे इससे पूर्व भी कई प्रमुख बसपा पदाधिकारियों को कांग्रेस में ला चुके हैं।