comScore

सतना: सड़क दुर्घटना में सब इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत

सतना: सड़क दुर्घटना में सब इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत


डिजिटल डेस्क सतना। नागौद थाना अंतर्गत मढ़ा मोड़ पर शनिवार सुबह भीषण सड़क हादसे में पन्ना पुलिस के सब इंस्पेक्टर की मौत हो गई। वह एक मामले की जांच के बाद सतना से वापस जा रहे थे। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक कोटर थाना क्षेत्र के ग्राम सोहास निवासी डीपी सिंह पुत्र युवराज सिंह 49 वर्ष पन्ना जिले के अजयगढ़ थाना क्षेत्र की हनुमतपुरा चौकी के प्रभारी थे। चौकी में दर्ज मर्ग की विवेचना के सिलसिले में वह शुक्रवार को सतना आए थे। यहां काम निपटाने के बाद शनिवार सुबह बोलेरो क्रमांक एमपी-19सीबी-1722 से पन्ना लौट रहे थे। इस दौरान तकरीबन सवा 11 बजे सुंदरा गांव के समीप मढ़ा मोड़ पर पहुंचे, तभी आगे जा रहे ट्रक क्रमांक आरजे-27जेसी-9148 के चालक ने अचानक ब्रेक लगा दिया, जिससे चौकी प्रभारी को संभलने का मौका नहीं मिला और उनकी गाड़ी ट्रक के पीछे टकरा गई। इस हादसे में सिर व सीने पर गंभीर चोट आने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। यह खबर किसी ने डायल 100 पर दी तो नागौद पुलिस आनन-फानन घटना स्थल पर पहुंच गई और मृत चौकी प्रभारी का शव गाड़ी से बाहर निकाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले आई।
पन्ना पुलिस के अधिकारी पहुंचे-
9 वर्ष पूर्व भारतीय नौसेना से रिटायर होने के बाद डीपी सिंह वर्ष 2012 में पुलिस सब इंस्पेक्टर बने थे। कुछ वर्ष तक रीवा में सेवाएं देने के बाद उनका तबादला पन्ना हो गया था, जहां तीन सालों से कार्यरत थे। फिलहाल श्री सिंह को अजयगढ़ थाने की हनुमतपुरा चौकी का प्रभार सौंपा गया था। दुर्घटना में चौकी प्रभारी की मौत का समाचार मिलते ही पन्ना एसपी मयंक अवस्थी ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बीकेएस परिहार को नागौद रवाना कर दिया था। एएसपी के साथ अजयगढ़ एसडीओपी इशरार मंसूरी, रक्षित निरीक्षक देविका सिंह बघेल, अजयगढ़ टीआई डीके सिंह, थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर घनश्याम मिश्रा समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी भी यहां आ गए। उधर सब इंस्पेक्टर के छोटे भाई रणजीत सिंह समेत कई रिश्तेदार जब नागौद पहुंच गए, तब शव का पोस्टमार्टम कराया गया। देर शाम विशेष वाहन से चौकी प्रभारी का पार्थिव शरीर गृह ग्राम सोहास रवाना कर दिया गया। इस मौके पर शासन के नियमानुसार एएसपी व आरआई ने परिजन को 1 लाख रुपए की तत्कालिक सहायता राशि का चेक प्रदान किया।
परिवार में एक बेटा, तीन बेटी-
दिवंगत पुलिस सब इंस्पेक्ट के परिवार में पत्नी के अलावा 19 वर्षीय बेटा पुष्पांक प्रताप ङ्क्षसह, बेटी नेहा सिंह, निधि सिंह और नमन सिंह हैं। जिनमें से नेहा का विवाह हो चुका है। उनके छोटे भाई रणजीत सिंह की पत्नी सोहास पंचायत की सरपंच हैं।
दिया जाएगा गार्ड ऑफ ऑनर-
2012 बैच के सब इंस्पेक्टर डेरापति सिंह का अंतिम संस्कार रविवार सुबह सोहास में किया जाएगा। ड्यूटी के दौरान निधन होने पर गार्ड ऑफ आनर दिया जाएगा। जिला मुख्यालय से वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी शामिल होंगे, इसके अलावा उनके बैच के कई पुलिस अधिकारी भी सोहास पहुंचेंगे। इस घटना से गांव और पुलिस विभाग में शोक की लहर दौड़ गई है।

कमेंट करें
i2Px4