दैनिक भास्कर हिंदी: दस्यु बबुली गिरोह को घेरने जंगल में सघन सर्चिंग अभियान

March 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। साढ़े 5 लाख का इनामी डकैत बबुली यूपी और एमपी पुलिस के लिए सिर दर्द बन चुका है। गत दिवस यूपी पुलिस से मुठभेड़ के बाद अब बबुली की आहट सेमरिया के मैनहा जंगल में मिली है। डकैत की आहट मिलने के बाद सतना-रीवा जिले की पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। बताया गया है कि बरौंधा, मझगवां और धारकुंडी थाने की टीम लगातार एडी ऐरिया में सर्चिंग कर रहे हैं। उधर बीती रात आईजी डभौरा पहुंचे और उन्होंने पनवार, अतरैला, डभौरा, जनेह की पुलिस को सतर्क किया।

खबर है कि बबुली कोल के साथ उसका राइट हैंड लवलेश पटेल भी है। गिरोह में पुलिस के मुताबिक अब पांच सदस्य बचे हैं। डकैतों का सहयोग करने वाले भी अब धीरे-धीरे घटने लगे हैं। इन दिनों वे किसी गांव में शरण लेना जोखिम भरा कदम मान रहे हैं। इसलिये वे जंगल में ही अपना ठिकाना बनाये हुए हैं। उधर रीवा पुलिस अधीक्षक आबिद खान ने भी डकैतों के ठिकाने में दबिश दी है। हालांकि पुलिस को डकैतों का कुछ सामान हाथ लगा है।

ठर्री जंगल में हुई थी मुठभेड़
ज्ञात हो कि चार जनवरी को यूपी के मानिकपुर थाना क्षेत्र के ठर्री जंगल में बबली गिरोह की यूपी पुलिस से मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ के बाद बबुली गिरोह अपने साथियों के साथ वहां से भाग निकला और सेमरिया थाना क्षेत्र के ककरेड़ी और मैनहा में शरण लिया। ककरेड़ी और मैनहा चित्रकूट की सीमा से लगे हैं। आये दिन इसी इलाके में डकैत विचरण करते हुए देखे जाते हैं। मुठभेड़ में यूपी पुलिस ले लवलेश को गोली लगने का दावा किया था।

चलेगा साझा अभियान
एमपी और यूपी की पुलिस ने डकैतों के विरुद्ध  चुनाव के पहले एक बड़ा अभियान चलाने की तैयारी की है। इसकी तैयार को लेकर गत दिनों हुई एक संयुक्त बैठक में सतना, रीवा, चित्रकूट और कर्वी-बांदा की पुलिस के अधिकारियों ने एक साझा अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इसमें तय हुआ है कि यूपी और एमपी के पुलिस अधिकारियों के अलावा थानों में पदस्थ कर्मचारी भी एक-दूसरे के सम्पर्क में रहेंगे। ताकि किसी प्रकार की डकैतों के संबंध में मिलने वाली गतिविधियों के बारे में एक-दूसरे को जानकारी मिल सके।

इनका कहना है
डकैत बबुली गिरोह की आहट के बाद पुलिस को सतर्क किया गया है, मैंने स्वयं दस्यु प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है, हाल ही में डभौरा में एसएएफ भी लगाई गई है।
चंचल शेखर, आईजी रीवा रेंज

 

खबरें और भी हैं...