महाशिवरात्रि: विभिन्न स्थानों पर निकाली गई बारात, मंदिरों में हुए विशिष्ट अनुष्ठान व रुद्राभिषेक: शिवमयी हुई संस्कारधानी, घर-घर गँूजे हर-हर महादेव के जयकारे

March 1st, 2022

 डिजिटल डेस्क जबलपुर।महाशिवरात्रि पर्व पर पूरी संस्कारधानी शिव भक्ति में डूबी नजर आई। देवालयों से लेकर घरों में सुबह तड़के ही अनुष्ठान शुरू हो गए, जो दिनभर चलते रहे। वहीं रात्रि में शुरू हुए महाअभिषेक सुबह तक चारों पहर चलते रहे। जगह-जगह भगवान शिव के विभिन्न रूपों की झाँकियाँ लगाई गईं। सुबह से लेकर रात तक भंडारे चलते रहे। नर्मदा तट सहित शहर के प्रमुख स्थानों पर दिन भर चहल-पहल बनी रही। सड़क किनारे लगाए गए पंडालों में दिन भर शिव गीत गँूजते रहे। मंदिरों में लोगों ने अनुष्ठान कर हर-हर महादेव के जयकारे लगाए। दिन भर उपवास रखकर शाम को भक्तों ने व्रत का पारायण किया। इसके अलावा कई स्थानों पर भगवान शिव की बारात निकाली गई। जिसमें भूत-पिशाच विशेष आकर्षण का केन्द्र रहे।
रामानंदी परंपरा से हुआ अभिषेक- प्रेमानंद आश्रम में रामानंदी परंपरा से जगद््गुरु रामानंदाचार्य स्वामी रामनरेशाचार्य के सान्निध्य में रात्रि के चारों पहर सामूहिक रुद्राभिषेक किया गया। महंत स्वामी श्यामदास नागा ने बताया िक आज बुधवार को भंडारे का आयोजन किया जाएगा।
कुशावर्तेश्वर महादेव की सवारी निकाली- जिलहरी घाट स्थित कुशावर्तेश्वर महादेव मंदिर से भगवान महादेव की शाही सवारी निकाली गई। विभिन्न मार्गों से होते हुए यात्रा का समापन मंदिर पहुँचकर हुआ। यात्रा में जगद््गुरु रामनरेशाचार्य महाराज, स्वामी श्यामदास नागा, पूर्व महापौर डॉ. स्वाति गोडबोले, सदानंद गोडबोले, पं. नीलेश दाभोलकर, मनोज तेलंग, पं. आशीष कालवे आदि उपस्थित रहे।
भक्तिधाम में विराजे विश्वेश्वर महादेव- भक्तिधाम, ग्वारीघाट परिसर में नवनिर्मित शिव मंदिर में भगवान विश्वेश्वर महादेव की स्थापना की गई। स्वामी अशोकानंद महाराज के सान्निध्य में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच प्राण प्रतिष्ठा संपन्न हुई। आठ पहर पूजन-अभिषेक किया गया। शाम को महादेव का दूल्हा श्रंृगार किया गया। पूजन में पं. वेदांत शर्मा, पं. पुष्पराज तिवारी सहित अन्य शामिल रहे।
भगवान महादेव का किया पूजन- मदन महल स्टेशन के पास दी आर्ट ऑफ लिविंग के तत्वावधान में स्वामी भव्यज्योति के सान्निध्य में भगवान शिव का पूजन-अभिषेक किया गया। उन्होंने इस दौरान शिव पूजन का महत्व बताया। योग प्रशिक्षक प्रभा खण्डेलवाल सहित अन्य मौजूद रहे।
नर्मदा जल से किया शिव का अभिषेक- घाना में भगवान शिव का नर्मदा जल से अभिषेक किया गया। मनोज यादव ने बताया कि हनुमान मंदिर से चकरघटा तक काँवड़ यात्रा निकाली गई। यात्रा में अनिल यादव, अजय सूर्यवंशी, ब्रिजेश सोनकर, बलराम मिश्रा, राजेश राजपूत आदि शामिल हुए।
नंदियों को खिलाया चारा- तारबाबू नंदी सेवा समिति द्वारा नंदी की पूजा की गई और शहर में नंदियों को चारा एवं खाद्य सामग्री खिलाई गई। इस अवसर पर बाबा यादव, सुरेन्द्र पटेल, रामप्रसाद पटेल, विकास गुप्ता, दीपक बिहारी, कान्हा यादव आदि मौजूद रहे।
केदारेश्वर महादेव का किया पूजन- मेडिकल के समीप बद्रीनारायण शिखर स्थित श्री केदारेश्वर गुफा में केदारेश्वर महादेव का पूजन-अर्चन और महाभिषेक किया गया। इस अवसर पर सुधीर रंजन दुबे, डॉ. एचपी तिवारी, अजय तिवारी, विवेक रंजन दुबे, मुकेश खंपरिया, डीके श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।
हरि हरात्मक यज्ञ- विश्व कल्याण के लिए श्रद्धा आश्रम सोनपुर में हरि हरात्मक यज्ञ किया गया। आज 45 सौ गाँवों की महिलाएँ व्रत रखकर अखण्ड सौभाग्य के लिए पूजन करेंगी।
निकाली वाहन रैली- गुप्तेश्वर मंदिर में पूजन के पश्चात वाहन रैली निकाली गई। रैली में अनमोल सिंह बेन, अंकुश रजक, रीतेश पटेल, गोलू, नील चौधरी सहित अन्य मौजूद रहे।
संकट मोचन मंदिर में पूजन- डीडी धाम संकट मोचन मंदिर मानेगाँव में रुद्राभिषेक एवं पूजन किया गया। विश्व शांति एवं कोरोना संक्रमण से मुक्ति की कामना की गई। इस अवसर पर आचार्य धीरज शास्त्री, अनिल मिश्रा, सुधा दुबे, प्रीति शुक्ला, मधु वर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।
गोरखपुर से निकली शिव बारात- गोरखपुर स्थित शिव शक्ति महाकाल मंदिर से शाम को भव्य शिव बारात निकाली गई। नंदी के ऊपर सवार महादेव की झाँकी विशेष आकर्षण का केन्द्र रही। बब्बर शेर नृत्य दल ने बैंड की धुन पर अपनी प्रस्तुति देकर सभी को भावविभोर कर िदया। विभिन्न वाहनों पर स्थापित विभिन्न देवी-देवताओं की प्रतिमाएँ भी शिव बारात में निकाली गईं। दिन भर मंिदर में अभिषेक और अनुष्ठान चलते रहे।
अधारताल में आयोजन- सार्वजनिक नवशक्ति खेरमाई मंदिर विकास समिति द्वारा खेरमाई मंदिर नेता कॉलोनी से शिव-पार्वती बारात निकाली गई। बारात में पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया, चमन पासी, मोना चौहान, सोनेलाल पटेल, सुबोध पहारिया, राकेश श्रीवास्तव सहित अन्य शामिल हुए।
शिव-शक्ति मंदिर में पूजन- शिव शक्ति मंदिर में वीर सावरकर वार्ड सेवा समिति द्वारा पूजन-अर्चन और अभिषेक के बाद भंडारा आयोजित किया गया। इस अवसर पर अनिल पाठक, हेमंत तिवारी, राजेश पाठक, नवीन, सौरभ ठाकुर आदि मौजूद रहे।
निकाली झंडा यात्रा- 360 गौत्रीय क्षत्रिय समाज के तत्वावधान में बड़ी खेरमाई मंदिर से सिद्धबाबा प्रांगण तक झंडा यात्रा निकाली गई। बम-बम भोले के जयकारों और आतिशबाजी के बीच झाँकी भी निकाली गई। यात्रा में पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया, मुन्ना लाल भोजक, राजकुमार भोजक, अखिल पटारिया, जीत जांगड़े सहित अन्य मौजूद रहे।
भंडारे का हुआ आयोजन- श्री काल भैरव मंदिर गढ़ा बाजार में अभिषेक पूजन के बाद भंडारे का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अशोक मनोध्याय, अरविंद सराफ, गुरु प्रसाद श्रीवास, बालाराम सोनी, रामकृष्ण ताम्रकार, मुकेश गर्ग आदि मौजूद रहे।
उजार पुरवा में भंडारा- सर्वोदय नगर उजार पुरावा में रामकृष्ण सेवा समिति द्वारा भंडारा आयोजित किया गया। इस मौके पर राजा केवट, सत्यम नारायण, अप्पा राव, मार्को बाबा, सुबैय्या आदि मौजूद रहे।
अमृतेश्वर महादेव का अभिषेक- समन्वय परिवार द्वारा अमृतेश्वर महादेव का पूजन और अभिषेक किया गया। इस अवसर पर मप्र गौपालन बोर्ड के अध्यक्ष स्वामी अखिलेश्वरानंद गिरी, डॉ. कैलाश गुप्ता सहित अन्य मौजूद रहे।
जीवंत झाँकियों के साथ निकाली बारात- सोनकर समाज द्वारा शाम 7 बजे शिव मंदिर भरतीपुर से महादेव की बारात िनकाली गई। बारात में जीवंत झांकियाँ आकर्षण का केन्द्र रहीं। भूत-पिशाचों के साथ बारात में देवतागण भी शामिल हुए। बारात में अध्यक्ष राजू चौधरी, अंचल सोनकर, बाबू शंकर, नीलू, बलराम, रमेश चौधरी, अच्छे लाल, चमन लाल, मुध, राजेश सोनकर सहित अन्य शामिल हुए।