दैनिक भास्कर हिंदी: व्यापमं के समान नीट परीक्षा में भी हो रही गड़बड़ी

February 9th, 2021

डिजिटल डेस्क जबलपुर । मप्र हाईकोर्ट में याचिका दायर कर आरोप लगाया गया है कि व्यापमं के समान ही नेशनल एलिजिबिलिटी कम इंट्रेस टेस्ट (नीट) में भी गड़बड़ी की जा रही है। याचिका में गड़बड़ी की उच्च स्तरीय जाँच कराने की माँग की गई है। हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ के जस्टिस शील नागू और जस्टिस आनंद पाठक की डिवीजन बैंच ने राज्य शासन, डीएमई एवं नेशनल टेस्टिंग एजेन्सी को नोटिस जारी कर तीन सप्ताह में जवाब देने का निर्देश दिया है। यह याचिका सिरोंज विदिशा निवासी छात्र आसिम अहमद खान की ओर से दायर की गई है। याचिका में कहा गया है कि वह नीट-2020 परीक्षा में शामिल हुआ था। विशेषज्ञों से चर्चा के बाद अनुमान लगाया गया कि परीक्षा में उसे 450 अंक मिलेंगे। खुद मूल्यांकन करने पर उसने 442 अंक मिलने का अनुमान लगाया। याचिका में कहा गया कि जब परिणाम घोषित हुआ तो उसे माइनस 10 अंक मिले। अधिवक्ता आदित्य संघी ने आरोप लगाया कि छोटे सेंटर से नीट की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की अंकसूची बदल जाती है। इससे पहले भी व्यापमं में इस तरह का घोटाला हो चुका है, जहाँ पर छात्रों की अंकसूची बदल दी गई। तमिलनाडु और इंदौर में भी नीट परीक्षा में गड़बड़ी हो चुकी है। आरोपों के समर्थन में याचिकाकर्ता की ओर से शपथ-पत्र भी दिया गया है। प्रारंभिक सुनवाई के बाद डिवीजन बैंच ने अनावेदकों को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया है। 

खबरें और भी हैं...