दैनिक भास्कर हिंदी: स्वच्छ सर्वेक्षण 8 जबलपुर का नाम प्रदेश के 10 शहरों में, रैंकिंग का फैसला 20 को

August 17th, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर । स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में शहर को देश के टॉप टेन शहरों में शामिल होने की उम्मीद बंध रही है। ऐसा हुआ तो यह न केवल शहर के लिए गौरव की बात होगी, बल्कि प्रदेश के लिए भी बड़ी बात होगी क्योंकि इंदौर और भोपाल के बाद हमारा शहर ही ऐसा होगा जो इस सूची में शामिल होगा। हालाँकि अभी परिणाम घोषित नहीं किए गए हैं बल्कि 20 अगस्त को खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ऑनलाइन आयोजन में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों की घोषणा करेंगे, लेकिन नगर निगम में इसे लेकर अधिकारी एक दूसरे को बधाई दे रहे हैं। उनका कहना है कि केन्द्र सरकार से जो सूची जारी की गई है, उसमें मध्यप्रदेश के 10 शहरों के नाम हैं, जिन्हें कोई न कोई पुरस्कार मिलेगा लेकिन यह तय है कि हम केन्द्रीय सूची में ग्रेड 10 में शामिल रहेंगे और यह हमारे लिए इतिहास रचने जैसा होगा। 
स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में सर्वेक्षण का पैटर्न बदल दिया गया था और इसे तीन स्तरों में करते हुए हर तिमाही परिणाम घोषित करने का निर्णय लिया गया था। इसके साथ ही इसमें ओडीएफ प्लस प्लस और स्टार रेटिंग के जरिए भी नम्बरों को विभाजित किया गया। ओडीएफ प्लसप्लस में तो शहर ने बेहतर प्रदर्शन किया, लेकिन स्टार रेटिंग में हम बुरी तरह फ्लॉप हो गए थे। इसके बाद भी यदि सर्वेक्षण में शहर देश के 10 चुनिंदा शहरों की सूची में शामिल होता है तो यह निश्चित ही शहर के लिए गौरव की बात होगी। नगर निगम द्वारा जारी वक्तव्य में साफ कहा गया है कि शहर ने टॉप टेन में स्थान प्राप्त किया है, लेकिन सवाल यह है कि यदि परिणाम 20 अगस्त को जारी होंगे तो फिर अभी स्थान प्राप्त होने की जानकारी कैसे मिल गई।  
नगर निगम का श्रेष्ठ प्रदर्शन 
नगर निगम के वक्तव्य में कहा गया कि  केंद्रीय शहरी कार्य एवं आवासन मंत्रालय द्वारा जारी परिणामों में नगर निगम ने उल्लेखनीय सफलता प्राप्त करते हुए टॉप टेन सूची में अपना स्थान दजऱ् किया है। इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए देश की राजधानी दिल्ली में होने वाले समारोह में  नगर निगम के उच्च अधिकारियों को सम्मानित किया जाएगा। स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए संभागायुक्त एवं प्रशासक  महेशचंद्र चौधरी एवं निगमायुक्त  अनूप कुमार सिंह ने स्वास्थ्य विभाग सहित नगर निगम की पूरी टीम को बधाई दी है। 
चला था स्वच्छता अभियान 
नगर निगम के तत्कालीन आयुक्त आशीष कुमार के निर्देश पर शहर के सभी 79 वार्डों में स्वच्छता का  महाअभियान चलाया गया था। नागरिकों, शहर की सामाजिक संस्थाओं, व्यापारिक, शैक्षणिक और सांस्कृतिक संस्थाओं के सहयोग से जनमानस को जागरूक करने अनेक अभियान चलाए गए।
इनका कहना है
20 अगस्त को ऑनलाइन आयोजन है जिसमें परिणाम घोषित होंगे। यह तय है कि हमारा प्रदर्शन बेहतर होगा और किसी न किसी कैटेगिरी में अवॉर्ड भी मिलेगा। रैंकिंग क्या होगी यह तो 20 अगस्त को ही पता चलेगा। 
रोहित सिंह कौशल, अपर आयुक्त  
 

खबरें और भी हैं...