14 जून को गढ़ा थाना क्षेत्र से अपहृत हुए 16 वर्षीय किशोर की अंधी हत्या का खुला राज, लव मैरिज से बढ़ा विवाद, दो आरोपी गि: अपनी ही बहन को अपमानित करता था किशोर, जीजा ने कर दी हत्या

June 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क प्रतिनिधि, जबलपुर। गढ़ा थाना क्षेत्र से 14 जून को अचानक गायब हुए एक 16 वर्षीय किशोर की उसके सगे जीजा ने अपहरण करने के बाद बेरहमी से हत्या कर दी। अपहृत किशोर का शव दो िदन पूर्व धार जिले के मांडू में एक हजार फीट गहरी खाई में िमला, जिसके बाद मांडू पुलिस की सूचना पर गढ़ा पुलिस पहुँची और जाँच शुरू की। पुलिस ने संदेह के आधार पर मृत किशोर के जीजा को भोपाल पहुँचकर िगरफ्तार किया और फिर मामले का खुलासा हुआ। हत्या के पीछे मृतक द्वारा लव मैरिज करने वाली अपनी बहन को गालियाँ देने का कारण बताया गया है।
सीएसपी गढ़ा तुषार सिंह ने बताया कि 14 जून को गढ़ा जेडीए स्टोर के पास रहने वाली िनर्मला िमश्रा ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी िक उसका 16 वर्षीय बेटा अतुल मिश्रा 11 जून की सुबह घर से दुकान जाने का कहकर िनकला था लेकिन वापस नहीं लौटा। निर्मला का कहना था िक परिचितों से उसे जानकारी मिली है कि उसका दामाद अभिषेक मिश्रा धार से जबलपुर आया है, जो अतुल को बहला-फुसलाकर अपने साथ कहीं ले गया। श्री िसंह के अनुसार िनर्मला की िरपोर्ट पर धारा 363 का प्रकरण दर्ज कर जाँच शुरू की गई थी।
भोपाल में पकड़ा गया अभिषेक
एसपी िसद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर गढ़ा टीआई राकेश तिवारी के साथ एक टीम भोपाल पहुँची, जहाँ संदेही अभिषेक मिश्रा को हिरासत में लिया गया। पूछताछ में अभिषेक ने अपने साथी धार पृथ्वीपुर िनवासी मयंक द्विवेदी के साथ िमलकर अतुल की हत्या करना कबूल कर लिया।
पत्नी को गाली देता था इसलिए मारा
अभिषेक ने पुलिस को बताया िक उसने 2021 में अतुल की बहन से लव मैरिज की थी लेकिन उसके ससुराल वाले शादी के िखलाफ थे। अतुल भी अपनी बहन के लव मैरिज करने से नाराज था और आए िदन फोन पर गालियाँ देने के साथ चरित्र को लेकर भद््दे मैसेज करता था। अभिषेक के अनुसार मामला शांत होने के बाद उसकी पत्नी जब मायके आई तो अतुल ने उसे सरेआम बेइज्जत किया था। इससे परेशान होकर पत्नी ने ये बातें अभिषेक को बताईं और फिर उसने हत्या का प्लान बनाया।
प्लान बनाकर ले गया धार, खाई में फेंका
सीएसपी श्री सिंह के अनुसार अभिषेक ने पूछताछ में बताया िक 11 जून को वह धार से जबलपुर पहुँचा। रामपुर निवासी एक रिश्तेदार के घर पर उसने पत्नी और साले को िमलने बुलाया। बातचीत करने के बाद अभिषेक ने पत्नी को वापस मायके भेज िदया और अतुल से स्टेशन घूमने चलने के लिए कहा। इसी दौरान अभिषेक ने अतुल से कहा कि वह धार स्थित आईशर प्लांट में काम करता है, तुम्हें भी अच्छी जॉब िदलवा दूँगा। अतुल तैयार हो गया और दोनों ट्रेन से धार के लिए रवाना हो गए।
उज्जैन में बंद किया मोबाइल
अतुल के िबना बताए अभिषेक के साथ चले जाने पर उसकी माँ निर्मला ने अभिषेक के मोबाइल पर कॉल करके नाराजगी जताते हुए अतुल को वापस भेजने के लिए कहा लेकिन अभिषेक ने गोलमोल बातें करते हुए मोबाइल बंद कर िलया।
1 हजार फीट गहरी खाई में फेंका
अभिषेक के इशारे पर उसका दोस्त मयंक द्विवेदी धार स्टेशन पर दोनों का इंतजार कर रहा था। जैसे ही अतुल और अभिषेक धार पहुँचे मयंक उन्हें घुमाने के लिए मांडू ले गया। रास्ते में कांकड़ खो के पास तीनों बस से उतर गए और िफर बातचीत करते हुए अभिषेक व मयंक अतुल को 1 हजार फीट गहरी खाई के पास ले गए। जहाँ अचानक दोनों ने अतुल को नीचे फेंक दिया। 13 जून को मांडू के मांडवा थाना पुलिस को खाई में अज्ञात किशोर का शव मिला, जिसकी िशनाख्त न होने पर पुलिस ने उसका कफन-दफन कर िदया था। अभिषेक के बयान पर पुलिस ने मांडू पुलिस से संपर्क करके अतुल का शव बरामद किया। पुलिस ने मयंक द्विवेदी को धार पृथ्वीपुर स्थित उसके घर पहुँचकर गिरफ्तार कर लिया है।