दैनिक भास्कर हिंदी: अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में हो सकता है मतदान, मतदाता सूची में शामिल दस लाख नए नाम

September 3rd, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के 14 वें विधानसभा चुनाव के लिए अक्टबूर के तीसरे सप्ताह यानी 15 से 20 अक्टूबर के बीच मतदान हो सकता है। जबकि 25 अक्टूबर तक चुनावी नतीजे घोषित किए जा सकते है। पिछली बार की तरह इस बार भी एक ही चरण में 288 सीटों के लिए मतदान कराए जाने की संभावना है। महाराष्ट्र में होनेवाले विधानसभा चुनाव की तैयारी का जायजा लेने के लिए भारत चुनाव आयोग के उपचुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा, संदीप सक्सेना, सुदीप जैन व चंद्रभूषण कुमार बुधवार को मुंबई आ रहे है। ये सभी अधिकारी 5 सितंबर को मंत्रालय में विधानसभा चुनाव की तैयारी का जायजा लेंगे। चुनाव आयोग के अधिकारी इस दौरान वििडयो कांफ्रेसिंग के जरिए जिला अधिकारियों से भी संपर्क करेंगे। यह जानकारी राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय से जुड़े सूत्रों ने दी है। केंद्रीय चुनाव आयोग की ओर से अक्टूबर महीने में महाराष्ट्र व हरियाणा के चुनावी कार्यक्रम की घोषणा किया जाना अपेक्षित है। इन दोनों राज्यों में विधानसभा चुनाव की अवधि 2 नवंबर से नौ नंवंबर के बीच खत्म हो रही है। इस लिहाज से इन दोनों राज्यों में उपरोक्त अवधि से पहले चुनाव करा कर नई सरकार का गठन किया जाना जरुरी है। गौरतलब है कि राज्य में विधानसभा चुनाव की घोषणा 12 सितंबर के बाद किसी भी समय हो सकती है।  पिछले विधानसभा चुनाव की घोषणा 12 सितंबर 2014 को की गई थी। इसके बाद 15 अक्टूबर को मतदान हुआ था और 19 अक्टूबर को चुनाव परिणाम घोषित किए गए थे। 
 

मतदाता सूची में शामिल दस लाख नए नाम

राज्य मतदाता सूची में 10 लाख से ज्यादा नए नाम शामिल किए गए हैं। इसके अलावा 2 लाख 15 हजार लोगों के नाम मतदाता सूची से हटाए गए हैं। राज्य चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले दूसरी मतदाता सूची जारी कर दी गई है। चुनाव से पहले मतदाता सूची में और नाम शामिल किए जा सकते हैं। नई मतदाता सूची के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनावों में राज्य के कुल 8 करोड़ 94 लाख लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। मतदाताओं में 4 करोड़ 66 लाख पुरूष जबकि 4 करोड़ 27 लाख महिलाएं हैं। मतदाताओं के आवेदन अभी भी स्वीकार किए जा रहे हैं और उम्मीदवारों के नामांकन तक मतदाता सूची में नए नाम जोड़े जाने की प्रक्रिया जारी रहेगी। इसके अलावा किसी का नाम गलती से मतदाता सूची से हटा दिया गया हो तो वह चुनाव पंजीकरण कार्यालय, जिलाधिकारी ऑफिस या उपविभागीय कार्यालय में संपर्क कर सकता है। मतदाता सूची में अपना नाम जोड़ने के लिए चुनाव आयोग की वेबसाइट https://nvsp.in/ पर भी ऑनलाइन आवेदन दिया जा सकता है। इस वेबसाइट पर मतदाता 


सूची में अपना नाम होने की भी पुष्टि की जा सकती है। अधिकारी के मुताबिक नई मतदाता सूची 19 अगस्त को जारी की जानी थी लेकिन राज्य के कोल्हापुर, सांगली और सातारा जिलों में बाढ़ के चलते इसमें देरी हुई। लोकसभा चुनाव के दौरान राज्य में कुल 8 करोड़ 85 लाख मतदाता थे। इनमें से 45702579 पुरुष और 41625819 महिलाएं थीं। वहीं साल 2014 के लोकसभा चुनावों में राज्य में मतदाओं की कुल संख्या 8 करोड़ 7 लाख थी।

खबरें और भी हैं...