दैनिक भास्कर हिंदी:  टेरर फंडिंग - बलराम समेत 3 आरोपियों को भोपाल ले गई एटीएस, 2 अन्य से शुरु की पूछताछ 

August 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर काम कर रहे जासूसों और आतंकियों के लिए टेरर फडिंग  के संगीन आरोप में यहां क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े 5 में से 3 आरोपियों बलराम सिंह पिता शिवकुमार (28) निवासी सोहास थाना कोटर, सुनील सिंह पिता राजेन्द्र (23) निवासी दलदल थाना रामपुरबघेलान और शुभम मिश्रा पिता जय मिश्रा  (25) निवासी आदर्शनगर थाना कोलगवां को भोपाल एटीएस (एंटी टेरेरिजम स्क्वाड) अपने साथ ले गई है। एसपी रियाज इकबाल ने बताया कि इन तीनों आरोपियों के खिलाफ कोलगवां थाने में  आईपीसी के सेक्सन 122, 123, 420, 468,471 और 120 बी , भारतीय बेतार तार यांत्रिकी अधिनियम 19 की धारा 3,6 और भारतीय तार अधिनियम 1885 की धारा 4,20 एवं 25 के तहत अपराध (क्रमांक नंबर -0/19) कायम किया गया है। जबकि 2 अन्य आरोपियों भारगेन्द्र सिंह(30) निवासी खोहर थाना कोटर और गोविंद कुशवाहा (26) निवासी नईबस्ती थाना कोलगवां से यहां जबलपुर से आई एटीएस पूछताछ कर रही है।  

5 लाख की 2 स्पोट्र्स बाइक भी बरामद 

इसी बीच पुलिस सूत्रों ने बताया कि बलराम सिंह के पास से पुलिस ने ढाई-ढाई लाख रुपए मूल्य की 2 स्पोट्र्स बाइक भी बरामद की हैं। ये वही बलराम सिंह है, जिसे  टेरर फडिंग के ही मामले में  8 फरवरी 2017 को कोलगवां थाना क्षेत्र की संग्राम कालोनी से भोपाल एटीएस ने गिरफ्तार किया था। बलराम ने तब अत्याधुनिक तकनीक पर आधारित चाइनीज बॉक्स की मदद से एक ऐसा समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज बना रखा था जो  इंटरनेट कॉल को सेल्युलर कॉल में बदल कर कॉलर की पहचान छिपा लेता था। यानि इसी अवैध टेलीफोन एक्सचेंज के माध्यम से विदेशी कॉल लोकल कॉल में बदल जाते थे। 

4 राज्यों से जुड़े हैं तार 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि सरहद पार पाकिस्तान में बैठे आकाओं के इशारों पर नाचने वाले इन आरोपियों का नेटवर्क प्रदेश की राजधानी भोपाल के अलावा बिहार, उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद और पश्चिम बंगाल तक फैला हुआ है। फिलहाल 3 ऐसे बैंक खाते सामने आए हैं, जिनसे टेरर फंड की निकासी हुई थी। जांच में 17 पाकिस्तानी नंबर मिले हैं। पूरे मामले की पड़ताल भोपाल की एटीएस करेगी। 

इनका कहना है

टेरर फंडिंग के मामले में क्राइम ब्रांच द्वारा गिरफ्तार किए गए 3 आरोपियों को एटीएस भोपाल को सौंप दिया गया है,जबकि 2 अन्य आरोपियों से यहां जबलपुर एटीएस पूछताछ कर रही है।  रियाज इकबाल, एसपी सतना