दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र में 2 करोड़ लोगों ने अपनाए एलईडी बल्ब, बिजली की बड़ी बचत

January 5th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्र सरकार की उजाला योजना को जनता का समर्थन मिला है। इतना ही नहीं इस योजना से बिजली खपत और बिल में भी काफी बचत की उम्मीद जताई जा रही है। केन्द्र सरकार ने दावा किया कि महाराष्ट्र के 2 करोड़ से भी अधिक लोगों ने बिजली की खपत करने वाले पारंपारिक बल्बों के स्थान पर उजाला योजना के तहत ऊर्जा दक्ष एलईडी बल्बों को अपनाया है। ऊर्जा मंत्रालय के अनुसार देशभर में 28 करोड़ से भी अधिक एलईडी बल्बों को वितरित किया गया है। इसमें महाराष्ट्र में 2 करोड़ 16 लाख 21 हजार 382 एलईडी बल्ब वितरित किए गए हैं। जबकि 92 हजार 769 एलईडी ट्यूब लाईट्स वितरित की गई हैं। सरकार के अनुसार एलईडी बल्ब के इस्तेमाल से राज्य में 28 लाख मेगावॉट बिजली की बचत की बचत होने के साथ 1123 करोड़ रुपये की भी बचत होगी। उजाला योजना के तहत एलईडी बल्ब के इस्तेमाल को प्रोत्साहन देने के लिए राज्य के प्रत्येक जिले में वितरण केन्द्र भी खोले गए है।

विदर्भ में 71 लाख एलईडी बल्ब का वितरण

सरकार की उजाला योजना के तहत विदर्भ के कुल 11 जिलों में 71 लाख 77 हजार 803 एलईडी बल्ब वितरित किए गए है। जिसमें नागपुर जिले में सबसे अधिक 14 लाख 15 हजार लोगों ने इस बल्ब को अपनाया है। उसके बाद अकोला जिले में 9 लाख 95 हजार, गोंदिया 2 लाख 19 हजार 930, भंडारा 1 लाख 84 हजार, वर्धा 4 लाख 82 हजार, गडचिरोली 2 लाख 98 हजार 994, वाशिम 8 लाख 62 हजार और बुलढाणा में 8 लाख 59 हजार 752 बल्बों को वितरित किया गया। एलईडी बल्ब को अपनाने के मामले में पुणे जिला अव्वल है। यहां 34 लाख 18 हजार बल्ब वितरित किए गए। जबकि ग्रामीण अंचलों में 4 लाख 33 हजार 933 बल्ब बांटे गए। मराठवाडा में कुल 21 लाख 8 हजार 942 और मुंबई में 9 लाख 54 हजार 684 बल्ब बांटे गए।