दैनिक भास्कर हिंदी: हादसे : झरने में गिरने से तीन छात्राओं की मौत- एक लापता, इमारत में लगी आग पर भी काबू 

August 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नई मुंबई के खारघर स्थित पांडवकड़ा झरने में चार छात्राएं बह गईं। जिसमें से तीन के शव बरामद किए हैं। चारों छात्राएं नेरुल के एसआईएस कॉलेज की छात्रा थी। खारघर व बेलापुर के बीच पांडवकडा में बारिश के मौसम में यह झरना तैयार होता है। मानसून के वक्त आसपास के इलाकों के लोग पिकनिक मनाने यहां आते हैं। शनिवार को सुबह कालेज के 9 छात्रों का समूह पिकनिक मनाने झरने पर पहुंचा था। उसी वक्त यह दुर्घटना घटी। मृतकों की आयु 18 से 19 वर्ष के बीच की है। खारघर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रदीप तिदार ने बताया कि नेहा अशोक जैन (17 ) , आरती नायर (17 )  और श्वेता नंदी (17 ) के शव बरामद कर लिए गए, जबकि नेहा दामा (17 ) की तलाशी के लिए अभियान जारी है। पांडवकड़ा इलाका मानसून के दौरान खतरनाक क्षेत्र घोषित रहता है और यहां आने पर प्रशासन की ओर से पाबंदी लगाई जाती है। हादसे नहीं हो इसके लिए सुरक्षा रक्षकों के साथ ही पुलिस भी तैनात की जाती है| इसके बावजूद लोग अपनी जान को खतरे में डालकर चोरी छिपे यहां आ जाते हैं। 

दक्षिण मुंबई की इमारत में आग 

भारी बारिश के बीच शनिवार की सुबह दक्षिण मुंबई के मस्जिद इलाके में एक चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में भीषण आग लग गई। घटना में कोई घायल नहीं हुआ है। मुंबई अग्निशमन सेवा के प्रमुख पी एस राहंगडाले ने बताया कि अग्निशमन नियंत्रण कक्ष को आज तड़के 4.24 बजे आए फोन कॉल में बताया गया कि अब्दुल रहमान मार्ग पर स्थित नवरंग इमारत में आग लग गई है। इसके बाद चार अग्निशमन वाहनों को तुरंत घटनास्थल पर भेजा गया। राहंगडाले ने कहा, ‘‘आग भूतल पर शुरू हुई, जिसकी चपेट में तल पर रखे कुछ सामान और बिजली के तार आ गए। आग के कारण पूरी इमारत में घना धुआं भर गया ,जिसकी वजह से बचाव अभियान के दौरान दिखाई देने में मुश्किले आईं। दमकल कर्मियों ने कुछ लोगों को इमारत की ऊपरी मंजिलों से बचाया है।