comScore

पन्ना: संबद्ध पैनल लायर्स का ऑनलाइन वीडियो एप के माध्यम से प्रशिक्षण सम्पन्न

October 20th, 2020 15:58 IST
पन्ना: संबद्ध पैनल लायर्स का ऑनलाइन वीडियो एप के माध्यम से प्रशिक्षण सम्पन्न

डिजिटल डेस्क, पन्ना। पन्ना मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार एवं श्री प्रेम नारायण सिंह जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जि.वि.से.प्रा. पन्ना के कुशल मार्गदर्शन में 19 अक्टूबर को ए.डी.आर. सभागृह, जिला न्यायालय परिसर पन्ना में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पन्ना से संबद्ध पैनल लायर्स का ऑनलाइन वीडियो एप के माध्यम से प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा प्रेषित मॉड्यूल 1 एवं मॉड्यूल 2 के पाठ्यक्रमानुरूप तथा आपराधिक एवं सिविल विधियों के नवीन संशोधनों, माननीय उच्चतम न्यायालय एवं माननीय उच्च न्यायालयों से निर्णीत मामलों का समावेश करते हुए अधिवक्ताओं के विधिक सेवाओं में दक्षता वृद्धि के उद्देश्य से ’पैनल लायर्स प्रशिक्षण’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। सचिव जि0वि0से0प्रा0 श्री आमोद आर्य ने विधिक सेवाओं में प्रशिक्षण कार्यक्रम की महत्व को बताते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण काल में भी प्राधिकरण द्वारा प्रदान की जा रही सेवाये प्रभावित न हो और पूर्व निर्धारित कार्यक्रम संचालित होते रहे। इसी कड़ी में ऑनलाइन वीडियों एप के माध्यम से पैनल अधिवक्ताओं हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया है। प्रशिक्षण के माध्यम से समय-समय पर निर्देशित आदेशों, संशोधित नियमों के साथ ही और अधिक सक्षम रूप से सेवाये प्रदान करने हेतु स्वस्थ संवाद स्थापित करना, सेवाओं में उत्पन्न होने वाली कठिनाइयों पर चर्चा करना और साथ ही साथ आपस में नवीन सुझावों को प्रस्तुत कर उन पर सामंजस्य बनाते हुए बेहतर विधिक सेवायें प्रदान करने हेतु उत्कृष्ट सेवा प्रणाली तैयार करना है। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री आर्य ने विधिक सेवाओं में पैनल लायर्स की भूमिका, विधिक सेवाओं की प्रकृति, विधिक सेवा के माध्यम से सहायता साधक को प्राप्त कराये जा सकने वाले लाभों, मेंटरिंग-मॉनीटरिंग समिति, पारिवारिक विवादो, पॉक्सो अधिनियम, महिलाओं एवं बच्चों से संबंधित विधियों, विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित प्रमुख योजनाओं एवं मॉड्यूल 1 व मॉड्यूल 2 के प्रमुख अंशों के बारे में सारगर्भित जानकारी प्रदान की। प्रशिक्षु न्यायाधीश सुश्री मेघा पुरोहित, श्रीमती मीनल गजवीर एवं श्री पंकज श्रीवास्तव ने भारतीय दण्ड संहिता, दण्ड प्रक्रिया संहिता, भारतीय साक्ष्य अधिनियम, सिविल प्रक्रिया संहिता का समावेश करते हुए विधि एवं प्रक्रिया से संबंधित क्रमशः आरोप विचरित किया जाना, प्रतिपरीक्षा किया जाना एवं अंतिम तर्क संबंधी प्रमुख बिन्दुओं, तथ्यों, उद्देश्यांे, कार्य प्रणाली के तरीको, सुसंगता, रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में माननीय उच्चतम एवं उच्च न्यायालयों से निर्णीत मामलों के संदर्भ को समाहित करते हुए बहुत ही सरल एवं सहज तरीके से ऑनलाइन एप से सम्मिलित पैनल अधिवक्तागण को प्रशिक्षित किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंत में श्री आर्य ने विद्वान अधिवक्ताओं का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि आप सभी विधिक सेवाओं के मामलें में उत्कृष्ट सेवायें प्रदान करें, विधिक सेवा प्राधिकरण आप सभी का हमेशा सहयोगी रहेगा।

कमेंट करें
yL1Gx