दैनिक भास्कर हिंदी: ग्राम में उल्टी दस्त ने मचाया तण्डव - बीमार मरीजो की संख्या 60 से हुई पार

November 8th, 2019

डिजिटल डेस्क  पन्ना/शाहनगर । पन्ना जिले के शाहनगर की ग्राम पंचायत कचौरी में बीते दो दिनो के दौरान उल्टी दस्त से बीमार मरीजो की संख्या 60 से अधिक पहुंच चुकी है उल्टी दस्त की फैली बीमारी के चलते समूचे ग्राम में दहशत की स्थिति निर्मित हो गयी है। ग्राम पंचायत कचौरी स्थित आदिवासी बस्ती में उल्टी दस्त की बीमारी फैलने की जानकारी सामने आने के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की चिकित्सीय टीम द्वारा कचौरी पहुंच कर कैम्प लगाया गया और उल्टी दस्त की चपेट में आये 15 मरीजो को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहनगर में भर्ती कराये जाने की कार्यवाही की गयी। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती 15 मरीजो का उपचार जारी था इसी बीच कचौरी ग्राम में एक के बाद दूसरे मरीजो की उल्टी दस्त की बीमारी होने की जानकारी सामने आयी सूचना प्राप्त होने के बाद अनुविभागीय दण्डाधिकारी कचौरी ग्राम पहुंचे और रात्रि में चिकित्सीय टीम को बुलाते हुये उल्टी दस्त की बीमारी की चपेट में आये अन्य मरीजो की जांच पड़ताल की गयी। 
लगाये गये कैम्प
6 नवम्बर को रात्रि में 12 बजे तक एसडीएम शाहनगर बी.बी.पाण्डेय की मौजूदगी में लगाये गये कैम्प में 33 मरीज उल्टी दस्त से पीडि़त पाये गये जिन्हे चिकित्सीय टीम द्वारा रात्रि में दवा दी गयी इसके साथ ही साथ उल्टी दस्त के मरीजो को रात्रि से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहनगर में उपचार के लिये भर्ती कराते हुये उनका उपचार चिकित्सीय टीम द्वारा शुरू किया गया। 7 नवम्बर को सुबह कचौरी ग्राम के 11 अन्य उल्टी दस्त से पीडि़त मरीजो के स्वास्थ्य की जांच करते हुये उपचार कराया गया तथा जिनकी हालत ज्यादा खराब थी ऐसे बीमार मरीजो को शाहनगर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार के लिये भर्ती कराया गया है शाहनगर के चिकित्सीय टीम द्वारा बताया गया कि बीते दो दिनों के दौरान कचौरी ग्राम से 55 से अधिक मरीज उल्टी दस्त की बीमारी से पीडि़त मरीज सामने आ चुके है। जिनमें से कुछ मरीजो का स्थानीय स्तर पर उपचार किया गया वही करीब आधा सैकड़ा मरीज दो दिनो के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहनगर में उपचार के लिये भर्ती कराये गये है। उल्टी दस्त से पीडि़त मरीजो तथा उनके साथ गांव के लोगो ने बताया कि उल्टी दस्त की चपेट में आये कुछ लोग कटनी उपचार के लिये चले गये है। जिससे यह कहा जा सकता है कि कचौरी ग्राम में उल्टी दस्त से पीडि़त मरीजो की संख्या 60 से अधिक पहुंच चुकी है। कचौरी ग्राम में लगातार उल्टी दस्त की शिकायत सामने आने के बाद पूरे गांव में दहशत की स्थिति बनी हुई है। वही स्वास्थ्य विभाग एवं स्थानीय प्रशासन का कहना है कि हालत नियंत्रण में है जो भी मरीज सामने आ रहे है उनके उपचार संबंधी त्वरित रूप से प्रबंध किये जा रहे है। 
नाली में पड़ी लीकेज पाईप लाईन से हो रही थी सप्लाई
शाहनगर स्थित ग्राम पंचायत कचौरी में नलजल योजना के तहत पेयजल की आपूर्ति की जाती है गांव में अचानक उल्टी दस्त की बीमारी का फैलने का कारण प्राथमिक रूप से सप्लाई के लिये बिछाये गये पाईपो के साथ नाली की दूषित गंदगी पहुंचना सामने आया है। हमारे स्थानीय संवाददाता को ग्राम पंचायत कचौरी के लोगो द्वारा नलजल सप्लाई के लिये बिछायी गयी पाईप लाईन दिखायी गयी ग्राम पंचायत में पेयजल सप्लाई के लिये जो पाईप डाले है वह गांव में बनी नाली से निकले हुये है। स्थानीय लोगो ने बताया कि पाईप लाईन जगह-जगह से लीकेज है और इसी लीकेज के साथ जब सप्लाई बंद होती है तो नाली का पानी पाईप लाईन में भर जाता है और सप्लाई चालू होने पर जो पानी घर में पहुंच रहा है उसमें नाली की गंदगी भी पहुंच रही है। गांव की एक महिला ने बताया कि सप्लाई होने वाले पानी के साथ छोटे-छोटे कीड़े भी आ रहे है और यही कारण है कि गांव के लोगो द्वारा दूषित पानी पिये जाने के बाद लोग बीमार पडऩे लगे और उल्टी दस्त के बीमार मरीजो की संख्या दो दिन के अंदर ही इतनी अधिक संख्या में पहुंच गयी है।