निर्णय : सहायक कोच श्रीधरन श्रीराम ने ऑस्ट्रेलियाई टीम छोड़ने का किया फैसला

July 30th, 2022

हाईलाइट

  • सहायक कोच श्रीधरन श्रीराम ने ऑस्ट्रेलियाई टीम छोड़ने का किया फैसला

डिजिटल डेस्क, सिडनी। लंबे समय से ऑस्ट्रेलियाई टीम के सहायक कोच रहे श्रीधरन श्रीराम ने भारत में अपने कोचिंग करियर पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया। इसके लिए उन्होंने कंगारू टीम को छोड़ने का निर्णय लिया है। चेन्नई के श्रीराम मुख्य रूप से एक स्पिन कोच के रूप में छह साल के लिए आस्ट्रेलिया के साथ रहे हैं, जबकि कई अभियानों में टीम के लिए बल्लेबाजी, क्षेत्ररक्षण और रणनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

उन्होंने अपने क्रिकेटर बेटे ऋषभ के साथ अधिक समय बिताने, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) और अन्य भूमिकाओं के साथ अपने कोचिंग करियर पर अपना ध्यान केंद्रित करने के लिए फैसला किया है।

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर को एडम जाम्पा और एश्टन एगार के सफल करियर में अहम माना जाता है, जबकि ग्लेन मैक्सवेल, मार्नस लाबुस्चागने और मिशेल स्वेपसन के साथ घनिष्ठ संबंध भी बनाए हैं। उनके संरक्षण में जाम्पा को टी20 क्रिकेट में पांचवां सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज और एगार 11 का स्थान दिया गया है, जो अतीत में शीर्ष-10 में रहा है। उन्होंने अपनी यात्रा में मैक्सवेल की स्पिन गेंदबाजी को भी धार दी है।

श्रीराम ने कहा, छह साल तक ऑस्ट्रेलियाई टीम के सहायक कोच के रूप में अपनी वर्तमान भूमिका से आगे बढ़ने का फैसला किया है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि यह टीम को ध्यान में रखते हुए एक उपयुक्त क्षण है, जिससे उन्हें दो विश्व कप और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की तैयारी के लिए पर्याप्त समय मिल सके।

श्रीराम ने कहा, मेरे लिए सभी प्रारूपों, विश्व कप और एशेज में काम करना एक शानदार अनुभव रहा है और मैंने इस दौरान काफी कुछ सीखा है। मैं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का उन सभी के समर्थन के लिए बेहद आभारी हूं। एडम जाम्पा ने कोच की प्रशंसा करते हुए कहा कि श्रीराम की सीख उनके लिए अमूल्य थी।

जाम्पा ने कहा, मुझे श्रीराम के साथ काम करना पसंद है, वह ऐसे व्यक्ति है, जिसके लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है और उसकी कार्य नीति और खेल का ज्ञान हाल के वर्षों में मेरे करियर के लिए अमूल्य रहा है।

सोर्सः आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.