comScore

DC vs CSK IPL 2020: धवन के शतक से दिल्ली कैपिटल्स शिखर पर, चेन्नई सुपरकिंग्स को 5 विकेट से हराया


हाईलाइट

  • दिल्ली फॉर्म में, चेन्नई का प्रदर्शन कुछ खास नहीं
  • दिल्ली फॉर्म में, चेन्नई का प्रदर्शन कुछ खास नहीं

डिजिटल डेस्क, शारजहां। शिखर धवन (नाबाद 101) की मुश्किल समय में खेली गई शतकीय पारी की मदद से दिल्ली कैपिटल्स ने शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में तीन बार की विजेता चेन्नई सुपर किंग्स को पांच विकेट से हरा दिया। चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए फाफ डु प्लेसिस (58 रन, 47 गेंद, 6 चौके, 2 छक्के), अंबाती रायूड (नाबाद 45 रन, 25 गेंद, 4 छक्के, 1 चौका) और रवींद्र जडेजा (33 रन, 13 गेंद, 4 छक्के) की मदद से 20 ओवरों में चार विकेट खोकर 179 रन बनाए।चेन्नई की खराब फील्डिंग ने दिल्ली को इस लक्ष्य को हासिल करने के भरपूर मौके दिए और दिल्ली ने 19.5 ओवरों में पांच विकेट खोकर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया।

धवन का टी-20 क्रिकेट में पहला शतक
धवन का यह आईपीएल में पहला शतक है। अपनी इस शतकीय पारी में उन्होंने 58 गेंदों का सामना कर 14 चौके, एक छक्का लगाया। धवन आज किस्मत भी साथ लेकर उतरे थे, क्योंकि चेन्नई के खिलाड़ियों ने उन्हें तीन जीवनदान दिए। धवन ने इनका भरपूर फायदा उठाया और टीम को जीत दिलाकर ही वापस लौटे। दीपक चहर ने चेन्नई को मनमाफिक शुरुआत दी और शुरुआती ओवरों में ही दो विकेट चटका दिए। पहले पृथ्वी शॉ को पारी की दूसरी गेंद पर बिना खाता खोले आउट किया और फिर अजिंक्य रहाणे (8) को सैम कुरैन के हाथों कैच कराया। रहाणे के जाने के बाद दिल्ली का स्कोर 26/2 हो गया।

दीपक ने दिल्ली को शुरुआती दो झटके दिए
दिल्ली की शुरुआत बेहद खराब रही थी। पृथ्वी शॉ लगातार दूसरे मैच के पहले ही ओवर में आउट हो गए। दिल्ली को शुरुआती दोनों झटके तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने दिए। उन्होंने अपनी ही बॉल पर पृथ्वी शॉ का कैच लिया। उसके बाद अजिंक्य रहाणे (8) को सैम करन के हाथों कैच आउट कराया। ओपनर शिखर धवन एक छोर संभाले रहे और उन्होंने टीम को जीत दिलाई।

धवन के तीन कैच छोड़े चैन्नई की टीम ने  
चाहर ने धवन का कैच छोड़ उन्हें जीवनदान दिया। धोनी ने भी धवन को मौका दिया। नुकसान यह रहा कि धवन ने अपनै पैर जमा लिए और आसानी से चेन्नई के गेंदबाजों को खेला और अंत तक टीम की जिम्मेदारी अपने ऊपर लेकर उसे विजयी बनाया। उनके साथ कप्तान श्रेयस अय्यर ने 68 रनों की साझेदारी की लेकिन धवन की तरह वो भाग्यशाली नहीं रहे। अय्यर को 94 के कुल स्कोर पर ड्वायन ब्रावो ने डु प्लेसिस के हाथों कैच कराया।

अक्षर पटेल का फिनिशिंग टच
धवन को फिर मार्कस स्टोइनिस के साथ मौका मिला और दोनों ने दिल्ली को मैच में आसानी से बनाए रखा। 16वें ओवर में रायडू ने धवन का एक और आसान सा कैच छोड़ दिया, लेकिन शार्दूल ठाकुर इसी ओवर में स्टोयनिस का विकेट लेने में सफल रहे जिन्होंने 14 गेंदों पर 24 रन बनाए। चार ओवरो में दिल्ली को 41 रनों की जरूरत थी और धवन अभी तक टिके हुए थे। दो ओवरों में दिल्ली को 21 रन चाहिए थे। कुरैन ने इस ओवर में सिर्फ चार रन दिए। आखिरी ओवरों में 17 रनों की जरूरत थी। अक्षर पटेल ने इसी ओवर की पांच गेंदों का सामना किया और नाबाद 21 रन बना टीम की जीत की औपचारिकताओं को पूरा किया।

चेन्नई की खराब शुरुआत रही
चेन्नई की शुरुआत बेहद खराब रही थी। मैच की दूसरी बॉल पर ओपनर सैम करन बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। तुषार देशपांडे ने उन्हें एनरिच नोर्तजे के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद डु प्लेसिस और शेन वॉटसन (36) ने दूसरे विकेट के लिए 67 बॉल 87 रन की पार्टनरशिप की। वॉटसन को नोर्तजे ने बोल्ड किया। नोर्तजे ने मैच में अपना दूसरा विकेट लेते हुए महेंद्र सिंह धोनी को विकेटकीपर एलेक्स कैरी के हाथों कैच आउट कराया।

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव किया। पीयूष चावला की जगह केदार जाधव को शामिल किया गया। वहीं, दिल्ली की टीम में कोई बदलाव नहीं हुआ। पिछले मैच में चोटिल हुए कप्तान श्रेयस अय्यर फिट हैं। वे मैच खेल रहे हैं।

दिल्ली की टीम आठ मैचों में छह जीत और दो हार के साथ 12 अंक लेकर अंकतालिका में दूसरे नंबर पर है। वहीं, चेन्नई सुपर किंग्स ने आठ मैचों में तीन जीते हैं और पांच हारे हैं तथा टीम छह अंकों के साथ तालिका में छठे नंबर पर है। दोनों टीमें अपना पिछला मुकाबला जीत चुकी है। इस सीजन में दोनों टीमें जब पहली बार एक दूसरे से भिड़ी तो दिल्ली ने चेन्नई को 44 रनों से करारी मात दी थी। दिल्ली ने इस मैदान पर चार मैच खेले हैं, जिसमें से उसने तीन जीते और एक हारे हैं। वहीं, चेन्नई ने दो खेले हैं, जिसमें से उसने एक जीते और एक हारे हैं।

दोनों टीमें:
दिल्ली: पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर (कप्तान), मार्कस स्टोइनिस, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल, तुषार देशपांडे, कगिसो रबाडा और एनरिच नोर्तजे।

चेन्नई: सैम करन, फाफ डु प्लेसिस, शेन वॉटसन, अंबाती रायडू, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, दीपक चाहर, शार्दूल ठाकुर और कर्ण शर्मा। 

कमेंट करें
f6NsS