comScore

ind vs eng 1st test: टीम इंडिया की करारी हार के साथ ही मैच में बने ये 5 खास रिकॉर्ड 

ind vs eng 1st test: टीम इंडिया की करारी हार के साथ ही मैच में बने ये 5 खास रिकॉर्ड 

हाईलाइट

  • सर्वाधिक टेस्ट मैच जीतने वाले इंग्लिश कप्तान बने रूट
  • भारत को पहले टेस्ट मैच में 227 रनों से हराया
  • इशांत भारत की ओर से 300 विकेट लेने वाले छठवें तेज गेंदबाज बने

डिजिटल डेस्क ( भोपाल)।  रूट की कप्तानी में इंग्लैंड ने यहां एमए चिदंबरम स्टेडियम में मंगलवार को भारत को पहले टेस्ट मैच में 227 रनों से हरा दिया। चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच जीतकर इंग्लैंड ने सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। दूसरा टेस्ट भी इसी मैदान पर खेला जाएगा। इस मैच में कई रिकार्ड भी बने हैं। ऐसे में यह मैच दोनों की टीमों के खिलाड़ियों के लिए खास रहा है। आइए, एक नजर डालते हैं मैच के कुछ खास रिकार्ड्स पर... 

सर्वाधिक टेस्ट मैच जीतने वाले इंग्लिश कप्तान बने रूट 

इस शानदार जीत के साथ ही जो रूट सर्वाधिक टेस्ट मैच जीतने वाले इंग्लैंड के कप्तान बन गए हैं। रूट ने इंग्लैंड के लिए अब तक 47 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है, जिसमें उन्होंने 26 टेस्ट जीते हैं। रूट से पहले इंग्लैंड के लिए बतौर कप्तान सर्वाधिक टेस्ट मैच जीतने का रिकॉर्ड माइकल वॉन के नाम था, जिन्होंने बतौर कप्तान 51 टेस्ट मैचों 26 मैच जीते थे।

उनके अलावा एंड्रयू स्ट्रॉस 50 टेस्ट मैचों में 24, एलेस्टेयर कुक 59 टेस्ट मैचों में 24 और पीटर मे 41 टेस्ट मैचों में 20 मैच बतौर कप्तान जीत हासिल कर चुके हैं। रूट ने एशिया में बतौर कप्तान छह टेस्ट मैचों में से सभी मैच जीते हैं। इन छह मैचों में से पांच मैचों में उन्होंने श्रीलंका को लगातार पांच मैचों में हराया है और अब उन्होंने भारत दौरे पर भी कप्तान विजयी शुरुआत की है। रूट से पहले दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ एशिया में 21 टेस्ट मैचों में आठ जीत और क्लाइव लॉयड 17 टेस्ट मैचों में सात टेस्ट जीत चुके हैं।

इशांत भारत की ओर से 300 विकेट लेने वाले छठवें तेज गेंदबाज बने

इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट के चौथे दिन टेस्ट करियर का 300वां विकेट पूरा करने वाले टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का कहना है कि उनका जीवन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है लेकिन इस दौरान उन्हें कई मेंटर मिले जिन्होंने उन्हें घरेलू और विदेशी जमीन पर हर माहौल में किस तरह गेंदबाजी करनी है वो सिखाया है। इशांत ने चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, जीवन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है। मुझे काफी अनुभव मिला। कई मेंटर मिले जिन्होंने मुझे भारतीय जमीन पर तथा विदेशी जमीन किस तरह गेंदबाजी करनी है वो सिखाया है। घरेलू क्रिकेट में चार ओवर गेंदबाजी करने के बाद पिछले तीन-चार दिनों के अंदर 35 ओवर गेंदबाजी करने से मुझे थोड़ी दिक्कत हुई।

इशांत भारत की ओर से 300 विकेट लेने वाले छठवें तेज गेंदबाज बन गए। इशांत ने यह उपलब्धि इंग्लैंड की दूसरी पारी में डेनियल लॉरेंस को पगबाधा आउट कर हासिल की। इंग्लैंड ने भारत को जीत के लिए 420 रनों का लक्ष्य दिया है और दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया एक विकेट खोकर 39 रन बना चुकी है तथा उसे यह मुकाबला जीतने के लिए एक दिन में 381 रन बनाने हैं।इशांत ने कहा, अगर हम पांचवें दिन अच्छी शुरुआत करते हैं तो लक्ष्य हासिल कर सकते हैं क्योंकि टीम का बल्लेबाजी क्रम मजबूत है और निडर है। हालांकि, इसके लिए जरुरी है कि हम नौ विकेट पर ध्यान नहीं देकर 381 रन पर ध्यान केंद्रित करें। पहले दो दिन पिच तेज गेंदबाजों और स्पिन की मदद नहीं कर रही थी और ऐसा लग रहा था कि हम सड़क पर खेल रहे हैं। लेकिन चौथे दिन पिच में टर्न आया।

ढाका में 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट पदार्पण करने वाले इशांत के अलावा भारत के विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव और पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान ने टेस्ट मैचों में 300 विकेट लिए हैं। इनके अलावा ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, पूर्व गेंदबाज अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के नाम भी टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट हासिल करने का रिकॉर्ड है।

इशांत ने यह मुकाम अपने 98वें टेस्ट मुकाबले में हासिल किया। उनसे पहले अश्विन (54 मैच) कुंबले (66 ), हरभजन (72), कपिल (83) और जहीर ने (89) मैचों में यह उपलब्धि हासिल की थी। इशांत ने भारत के लिए 80 वनडे और 14 टी20 मुकाबले खेले हैं, जिनमें उन्होंने क्रमश: 115 और आठ विकेट झटके हैं।

एशिया में इंग्लैंड की लगातार छठवीं जीत ...

 एशिया में इंग्लैंड की लगातार यह छठवीं जीत है। 2018 में श्रीलंका के खिलाफ 3-0 और 2-0 से श्रृंखला जीती थी। एशिया में उनका हालिया रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के विपरीत है, जिन्होंने सोमवार को रावलपिंडी में पाकिस्तान से हार गई और महाद्वीप में लगातार नौवां टेस्ट गंवाया। जनवरी 2010 से एशिया में इंग्लैंड के लिए यह 11वीं टेस्ट जीत है। 

30 की उम्र में 343  टेस्ट विकेट लेने वाले चौथे तेज गेंदबाज बने

जेम्स एंडरसन 30 की उम्र में 343  टेस्ट विकेट लेने वाले चौथे तेज गेंदबाज बन गए हैं। वह कोर्टनी वाल्श से आगे निकल गए, जिनके पास 341 हैं। 30 की उम्र पार करने के बाद सिर्फ रंगना हेराथ (398), मुथैया मुरलीधरन (388) और शेन वार्न (386) ये तीन खिलाड़ी ही शामिल है, जबकि अनिल कुंबले के भी 343 विकेट हैं। 

114 साल बाद पारी की पहली गेंद पर किसी स्पिनर को मिला विकेट... 

मैच के चौथे दिन आर. अश्विन ने 6 विकेट झटके। उन्होंने इंग्लैंड की दूसरी पारी शुरू होते ही पहली बॉल पर बर्न्स को आउट किया। 114 साल बाद किसी स्पिनर को पारी की पहली गेंद पर विकेट मिला। अंतिम बार अफ्रीका के एल्बर्ट वॉग्लर ने 1907 में इंग्लैंड के खिलाफ ही यह कारनामा किया था। 

कमेंट करें
rgtME