comScore

ICC W T-20 WC: ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में साउथ अफ्रीका को 5 रन से हराया, फाइनल में टीम इंडिया से होगा मुकाबला

ICC W T-20 WC: ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में साउथ अफ्रीका को 5 रन से हराया, फाइनल में टीम इंडिया से होगा मुकाबला

हाईलाइट

  • ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को ICC विमेंस टी-20 वर्ल्ड कप के दूसरे सेमीफाइनल मैच में साउथ अफ्रीका को 5 रन से हराया
  • ऑस्ट्रेलिया का अब फाइनल में मुकाबला 8 मार्च को भारतीय टीम से होगा

डिजिटल डेस्क। मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को ICC विमेंस टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है। सीडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए दूसरे सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया ने साउथ अफ्रीका को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 5 रन से मात देकर फाइनल में अपनी जगह बनाई। ऑस्ट्रेलिया का अब फाइनल में मुकाबला 8 मार्च को भारतीय टीम से होगा। मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 134 रन बनाए। इसके बाद मैच में बारिश आ गई और फिर मैच को 13 ओवरों का कर दिया गया। साउथ अफ्रीका को मैच जीतने के लिए 13 ओवर में 98 रन का संशोधित लक्ष्य दिया गया। लेकिन टीम 13 ओवर में 5 विकेट पर 92 रन ही बना सकी और उसे 5 रन से करीबी हार का सामना करना पड़ा।

साउथ अफ्रीका की ओर से लॉरा वोल्र्वाडट ने 27 गेंदों पर तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से सर्वाधिक 41 रनों की पारी खेली। उनके अलावा कप्तान डेन वान निकर्क ने 12 और लिजेले ली ने 10 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए मेशन शट ने दो और जेस जोनासन, सोफी मोलीन्यूक्स तथा डेलिसा किमेंसे ने 1-1 विकेट झटके।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 134 रन का स्कोर बनाया। मेजबान टीम के लिए कप्तान मेग लेनिंग ने 49 गेंदों पर 4 चौकों और 1 छक्के की मदद से सर्वाधिक नाबाद 49 रनों की पारी खेली। उनके अलावा बेथ मूनी ने 24 गेंदों पर 4 चौकों के सहारे 28, एलिसा हैली ने 18, राइकल हैन्स ने 17 और निकोला कैरी ने नाबाद 17 रन बनाए। साउथ अफ्रीका की ओर से नेडिने डी क्लर्क ने 3 और अयोबोंगा खाका और नोंनकुलुको मलाबा ने 1-1 विकेट लिए।

फाइनल में ऑस्ट्रेलिया का सामना भारत से होगा। भारत ने पहली बार वर्ल्ड कप के फाइनल में कदम रखा है। भारत और इंग्लैंड के बीच पहला सेमीफाइनल मैच बारिश के कारण रद्द हो गया और इसी कारण भारत ने पहली बार वर्ल्ड कप के फाइनल में कदम रख लिया।

भारत ने ग्रुप-ए का अंत पहले स्थान के साथ किया था और इसी कारण वह फाइनल में जाने की हकदार थी। इस वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल रद्द होने के बाद रिजर्व डे का प्रावधान नहीं है, इसलिए ग्रुप स्तर के परिणामों के ध्यान में रखते हुए फाइनल में जाने वाली टीम का ऐलान किया गया।
 

कमेंट करें
pDJjz