comScore

IND VS AUS: हार के बाद बोले कोहली- शायद हमें बैटिंग ऑर्डर पर दोबारा सोचने की जरूरत

IND VS AUS: हार के बाद बोले कोहली- शायद हमें बैटिंग ऑर्डर पर दोबारा सोचने की जरूरत

हाईलाइट

  • ऑस्ट्रेलिया ने भारत पहले वनडे मैच में 10 विकेट से हराया, सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की
  • मैच के बाद कोहली ने कहा, उन्होंने खेल के तीनों विभागों में हमें नतमस्तक कर दिया

डिजिटल डेस्क, मुंबई। ऑस्ट्रेलियाई टीम जब भारत आई थी तो सभी को पता था कि यह टीम मजबूत है, लेकिन इतनी मजबूत की भारत को उसी के घर में पहले वनडे में 256 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 10 विकेट से हरा दे, यह शायद किसी ने नहीं सोचा था। भारतीय कप्तान विराट कोहली भी मान गए हैं और उन्होंने कहा है कि यह टीम काफी मजबूत है और इसके खिलाफ वापसी चुनौतीपूर्ण है।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच मंगलवार को वानखड़े स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे में टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिए बुलाया। उनके गेंदबाजों ने मेजबान टीम को 49.1 ओवरों में 255 रनों पर ऑल आउट कर दिया। इस लक्ष्य को ऑस्ट्रेलिया ने बिना विकेट खोए हासिल कर 10 विकेट से मैच जीता। डेविड वार्नर ने नाबाद 128 रन बनाए और कप्तान फिंच ने नाबाद 110 रन।

हमारे लिए चुनौती यहां से वापसी करने की होगी
मैच के बाद कोहली ने कहा, उन्होंने खेल के तीनों विभागों में हमें नतमस्तक कर दिया। यह बेहद मजबूत ऑस्ट्रेलियाई टीम है और अगर आप इनके खिलाफ अच्छा नहीं खेले तो यह आपको नुकसान पहुंचाएंगे। हमने उनके गेंदबाजों का सम्मान किया और मैच को करीब से अपने पक्ष में नहीं लिया। हमारे लिए एक और चुनौती यहां से वापसी करने की होगी।

मध्य क्रम एक बार फिर पूरी तरह से विफल
भारत के लिए शिखर धवन ने 74 और लोकेश राहुल ने 47 रनों की पारी खेलीं लेकिन मध्य क्रम एक बार फिर पूरी तरह से विफल रहा। मध्य क्रम पर कोहली ने कहा, यह युवा मध्य क्रम के बल्लेबाजों के लिए मौका है कि वो शानदार गेंदबाजों के सामने अपनी प्रतिभा दिखाएं और मैच जिताऊ पारी खेलें।

कोहली इस मैच में नंबर-4 पर बल्लेबाजी करने आए थे क्योंकि रोहित शर्मा ने धवन के साथ पारी की शुरुआत की और राहुल नंबर-3 पर खेले। कोहली ने कहा वैसा नहीं हुआ, जैसा हमने चाहा था। शायद हमें बैटिंग ऑर्डर पर दोबारा सोचने की जरूरत है।

नंबर-4 पर खेलने पर कोहली ने कहा, हमने इसे लेकर पहले भी चर्चा की हैं। जिस तरह से राहुल बल्लेबाजी करते आ रहे हैं तो हमने सोचा की उन्हें ऊपर खेलाना चाहिए। यह खिलाड़ियों को लाने और उन्हें परखने की बात है। लोगों को धैर्य रखने की जरूरत है घबराने की नहीं। आज का दिन हमारा नहीं था। दूसरा वनडे राजकोट में 17 जनवरी को है।

कमेंट करें
YiMw5