दैनिक भास्कर हिंदी: आठ टीमों के साथ ही खेला जाएगा आईपीएल 2021, नई फ्रेंचाइजी 2022 से होगी शामिल

December 21st, 2020

हाईलाइट

  • अगले साल आईपीएल के नए सीजन में कितनी टीमें खेलेंगी ये करीब-करीब साफ
  • बीसीसीाई नए टीमों को 2021 में शामिल करने के पक्ष में नहीं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अगले साल आईपीएल के नए सीजन में कितनी टीमें खेलेंगी ये अब करीब-करीब साफ हो गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीाई नए टीमों को 2021 में शामिल करने के पक्ष में नहीं है। उसे लगता है कि ये काफी जल्दबाजी भरा फैसला होगा। इसलिए नई फेंनचाइजी को 2022 में ही शामिल किया जाएगा। हालांकि, आधिकारिक तौर पर अब तक इसका ऐलान नहीं किया गया है। 24 दिसंबर को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की एनुअल जनरल मीटिंग होने जा रही है। इस मीटिंग में टीमों की संख्या को लेकर फैसला हो जाएगा।

इनसाइड स्पोर्ट की एक खबर में बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से लिखा गया है, 'आईपीएल 2021 में दो नई टीमों को लॉन्च करने के लिए समय बहुत कम है। खासतौर पर जब नई प्लेयर ऑक्शन भी होनी है। ऐसे में काम ज्यादा है और समय बेहद कम। अगर आईपीएल में 2 नई टीमें आएंगी तो वो 2022 के सीजन में ही संभव हो पाएगा।' इनसाइड स्पोर्ट के मुताबिक स्टार स्पोर्ट्स के साथ बीसीसीआई का करार 2021 में खत्म हो रहा है, इसीलिए 2022 में ही नई टीमों के साथ आईपीएल का आयोजन हो सकता है। अगर आईपीएल 10 टीमों का होता है तो उसकी वैल्यू और ज्यादा बढ़ेगी। 10 टीमों का मतलब कुल 94 मैचों का टूर्नामेंट। इसलिए मौजूदा हालात में ऐसा संभव नहीं दिखता।

बता दें कि आईपीएल के 13वें सीजन के खत्म होने के बाद से ही खबरें आ रही थी की आईपीएल में नौंवी टीम के लिए अहमदबाद का नाम करीब करीब फानइल हो गया है। वहीं दसवीं टीम के लिए कानपुर, लखनऊ और पुणे रेस में हैं। कहा जा रहा था कि अडानी ग्रुप और संजीव गोयंका की RPSG ग्रुप टीम खरीदने की दौड़ में सबसे आगे हैं। गोयनका की इससे पहले भी आईपीएल टीम थी, जिसका नाम राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स (RPS) था और इस टीम ने 2016 और 2017 में लीग में हिस्सा लिया था। उस वक्त चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स को स्पॉट फिक्सिंग विवाद के कारण 2 साल के लिए आईपीएल से निलंबित कर दिया गया था।