भारत बनाम साउथ अफ्रीका : भारतीय क्रिकेट के लिए सुपर स्पेल ईयर रहा 2021 : केएल राहुल

December 31st, 2021

हाईलाइट

  • 29 वर्षीय खिलाड़ी को अपने प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला

डिजिटल डेस्क, सेंचुरियन। सेंचुरियन में टीम इंडिया की पहली टेस्ट जीत के बाद सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने गुरुवार को कहा कि 2021 भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे अच्छे सालों में एक के रूप में जाना जाएगा।

उन्होंने कहा कि यहां पहले टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 123 रन बनाना, विदेशी धरती पर बनाए गए अन्य शतकों के जैसा ही था।

राहुल के सातवें टेस्ट शतक के अलावा, पहली पारी में मयंक अग्रवाल के साथ 117 रन की ओपनिंग साझेदारी ने बॉक्सिंग डे टेस्ट में भारत को 113 रन की जीत दर्ज करने में मदद की, जिससे तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त मिली।

राहुल ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, मुझे लगता है कि यहां की परिस्थितियों में खेलना चुनौतीपूर्ण होता है। मुझे यह शतकीय पारी खेलने के लिए बहुत हिम्मत और अनुशासन लगा, जिससे टीम जीतने की स्थिति में पहुंच सकी।

टेस्ट उपकप्तान ने ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और अब दक्षिण अफ्रीका में शानदार विदेशी जीत के कारण भारतीय क्रिकेट के लिए 2021 को सुपर स्पेशल ईयर के रूप में अभिव्यक्त किया।

उन्होंने कहा, यह टीम इंडिया के लिए एक सुपर स्पेशल साल है। इस साल हमने जिस तरह की उपलब्धियां हासिल की हैं, वह वास्तव में खास है। यह भारतीय क्रिकेट इतिहास, विशेष रूप से टेस्ट क्रिकेट में सबसे अच्छे वर्षों में से एक के रूप में जाना जाएगा। हमने वास्तव में अच्छा काम किया है। पिछले कुछ वर्षों से एक खिलाड़ी के रूप में कड़ी मेहनत कर रहा हूं और ऐसे परिणाम देखकर वास्तव में खुश हूं।

जीत के बाद ड्रेसिंग रूम के मिजाज के बारे में बात करते हुए राहुल ने कहा, इस समय ड्रेसिंग रूम का माहौल बहुत अच्छा है। जाहिर है, यह एक शानदार टेस्ट जीत है। कोई भी एशियाई टीम यहां यहां नहीं जीत पाई है और हमने सेंचुरियन में जीत हासिल की है।

29 वर्षीय खिलाड़ी को अपने प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। उन्होंने श्रृंखला में पहली जीत का श्रेय सबक को दिया। हमने पिछले दौरे से बहुत कुछ सीखा। पिछले कई दौरे से हमे कई सारी चीज सीखने को मिली है। हमने एक टीम के रूप में इस पर चर्चा की है कि दक्षिण अफ्रीका जैसे देश में क्या बेहतर करने की आवश्यकता है, जिससे हमें सफलता मिले।

उन्होंने आगे कहा, हमने टीम के साथ अपने अनुभव साझा किए हैं। मुझे लगता है कि इससे हमें वास्तव में मदद मिली है और इस बार बेहतर तैयारी की है। टीम के प्रशिक्षण, तैयारी और मानसिकता ने हमें श्रृंखला में इतनी शानदार शुरुआत दी है।

 

(आईएएनएस)