दैनिक भास्कर हिंदी: BCCI की दो टूक: एशिया कप की मेजबानी करे पीसीबी, लेकिन पाकिस्तान में नहीं खेलेगी टीम इंडिया 

January 28th, 2020

हाईलाइट

  • BBCI अधिकारी ने बताया- मेजबानी का कोई मुद्दा नहीं है, तटस्थ स्थल पर खेलने की बात है
  • पीसीबी सीईओ ने भारत में होने वाले टी—20 विश्वकप में नहीं खेलने की दी थी धमकी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने साफ कर दिया है कि उसे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के एशिया कप की मेजबानी करने से कोई ऐतराज नहीं है, लेकिन वह टूर्नामेंट के लिए पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी। बीसीसीआई ने कहा है कि एशिया कप का स्तर तटस्थ होना चाहिए, क्योंकि उसके लिए इस समय पाकिस्तान जाना विकल्प ही नहीं है।

बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ओर से बयान आया था​ कि यदि भारतीय टीम एशिया कप खेलने पाकिस्तान नहीं आती है तो पाकिस्तानी टीम भी 2021 में भारत की मेजबानी में होने वाले टी-20 विश्वकप में हिस्सा नहीं लेगा। गौरतलब है कि इसी साल एशिया कप खेला जाना है, जो इसी साल आस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप की तैयारियों के लिहाज से अहम माना जा रहा है, लेकिन आतंकवाद और जम्मू-कश्मीर को लेकर दोनों देशों के बीच लंबे समय से तनाव चला आ रहा है। इसके अलावा पाकिस्तान में सुरक्षा कारणों से भी बीसीसीआई ने पाक दौरे को लेकर साफ इनकार कर दिया है। 

वहीं बता दें कि पुलवामा में आतंकी हमले के बाद 2019 में हुए विश्वकप में भी भारत द्वारा पाकिस्तान टीम से मैच नहीं खेलने की बात उठी थी।  

मेजबानी का सवाल नहीं है
बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि मेजबानी का कोई मुद्दा नहीं है और यह सिर्फ तटस्थ स्थल पर खेलने की बात है, क्योंकि भारतीय टीम पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी। अधिकारी ने कहा, सवाल यह नहीं है कि पीसीबी मेजबानी कर रही है। यह टूर्नामेंट के स्थल की बात है। अभी इस समय जैसी चीजें हैं, यह साफ है कि हमें तटस्थ स्थल चाहिए होंगे। ऐसी कोई संभावना नहीं है कि भारत मल्टी नेशन टूर्नामेंट में हिस्सा लेने भी पाकिस्तान जाए। अगर एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) इस बात से खुश है कि एशिया कप बिना भारत के हो तो यह अलग बात है, लेकिन अगर भारत को एशिया कप का हिस्सा होना है तो यह जरूरी है कि टूर्नामेंट पाकिस्तान में न हो।

भारत ने 2018 एशिया कप की मेजबानी यूएई में की थी 
2018 में एशिया कप भारत में होना था, लेकिन पाकिस्तानी खिलाड़ियों को लेकर वीजा की समस्या हुई थी और इसी कारण एशिया कप संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराया गया था और इसकी मेजबानी बीसीसीआई ने की थी। अधिकारी ने कहा कि पीसीबी भी यही कर सकती है। उन्होंने कहा कि तटस्थ स्थल हमेशा से विकल्प रहते हैं। बीसीसीआई ने 2018 में यह किया था।

2009 में श्रीलंका​ क्रिकेट टीम पर हुआ था हमला
पाकिस्तान में 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम की बस पर आतंकवादियों में हमला कर दिया था, तब से पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट नहीं हुआ था, लेकिन हाल ही में श्रीलंका ने पाकिस्तान का दौरा किया और अभी इस समय बांग्लादेश भी दौरे पर है।

 

खबरें और भी हैं...